scorecardresearch
 

दिल्ली: LJP सांसद प्रिंस राज के खिलाफ रेप मामले में FIR, चिराग पासवान का भी जिक्र

बिहार के समस्तीपुर से सांसद प्रिंस राज पासवान के खिलाफ दिल्ली में एफआईआर दर्ज की गई है. रेप से जुड़े मामले में एक पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने ये एक्शन लिया है.

समस्तीपुर से सांसद प्रिंस राज पासवान (File) समस्तीपुर से सांसद प्रिंस राज पासवान (File)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • लोजपा सांसद प्रिंस राज पासवान के खिलाफ एफआईआर
  • रेप मामले में कोर्ट के आदेश के बाद हुआ एक्शन
  • पीड़िता द्वारा तीन महीने पहले की गई थी शिकायत

बिहार के समस्तीपुर से लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के सांसद प्रिंस राज पासवान के खिलाफ दिल्ली में एफआईआर दर्ज की गई है. प्रिंस के खिलाफ रेप से जुड़े एक मामले में ये एफआईआर की गई है. इस एफआईआर में चिराग पासवान का भी ज़िक्र किया गया है. 

करीब तीन महीने पहले एक पीड़िता ने दिल्ली के कनॉट प्लेस पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई थी, अब कोर्ट का आदेश आने के बाद सांसद प्रिंस राज (Prince Raj) के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है. ये एफआईआर 9 सितंबर को दर्ज हुई है.

एफआईआर में पीड़िता द्वारा आरोप लगाया गया है कि उसका अश्लील वीडियो भी बनाया गया था और बाद में वीडियो को वायरल करने की धमकी भी दी गई. साथ ही उसे इस मामले की शिकायत ना करने के लिए धमकाया गया और उसपर दबाव बनाया गया. 

बता दें कि प्रिंस राज पासवान लोक जनशक्ति पार्टी के नेता चिराग पासवान (Chirag Paswan) के चचेरे भाई हैं, जबकि केंद्रीय मंत्री पशुपति पारस पासवान के भतीजे हैं. 

चिराग पासवान का भी ज़िक्र...

एफआईआर में चिराग पासवान का भी ज़िक्र किया गया है, पीड़िता का कहना है कि उसने चिराग को इस हादसे के बारे में बताया था. पीड़िता के मुताबिक, जब चिराग पासवान ने भी उसकी बात नहीं सुनी तो वह एफआईआर को लेकर कहने लगी, बाद में चिराग पासवान ने मुलाकात कर किसी तरह का केस ना करने को कहा.  पीड़िता का आरोप है कि चिराग पासवान ने पार्टी अध्यक्ष रहते हुए इस मामले में कोई एक्शन नहीं लिया. 

आरोपों को नकार चुके हैं प्रिंस राज

पीड़िता द्वारा कुछ वक्त पहले दिल्ली के कनॉट प्लेस पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करवाई गई थी. पीड़िता के मुताबिक, वह लोजपा की कार्यकर्ता थी. पीड़िता द्वारा आरोप लगाया गया था कि बेहोशी के हालत में उसके साथ शोषण किया गया था. 

प्रिंस राज पासवान द्वारा भी इस मामले में एफआईआर दर्ज कराई जा चुकी है, जहां उन्होंने पीड़िता पर गलत आरोप लगाने की बात कही थी. प्रिंस राज पासवान बार-बार इन आरोपों का खंडन करते रहे हैं. 

चिराग पासवान और पशुपति पारस पासवान के बीच जब पार्टी को लेकर खींचतान चल रही थी, तब चिराग पासवान ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस मामले का ज़िक्र भी किया था. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें