scorecardresearch
 

पत्नी और साली ने अपने प्रेमियों के साथ मिलकर की शख्स की हत्या, शव को वैन में डालकर लगा दी आग

रोहतक पुलिस ने मुंगाण के रहने वाले दूध का काम करने वाले संदीप की हत्या की वारदात को सुलझा लिया है. पुलिस ने पहले ही मृतक संदीप की पत्नी और साली को गिरफ्तार कर लिया था. पुलिस ने फरार चल रहे दोनों प्रेमियों को भी गिरफ्तार करने में सफलता हासिल कर ली है. संदीप की पत्नी और साली पहले ही न्यायिक हिरासत में जेल में बंद है. आरोपियों को सोमवार को अदालत में पेश किया गया है.

पत्नी और साली ने अपने प्रेमियों के साथ मिलकर की शख्स की हत्या, शव को वैन में डालकर लगा दी आग. पत्नी और साली ने अपने प्रेमियों के साथ मिलकर की शख्स की हत्या, शव को वैन में डालकर लगा दी आग.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पुलिस ने हत्या का कारण अवैध संबंध बताया
  • मृतक संदीप की पत्नी और साली को गिरफ्तार कर लिया गया
  • पुलिस ने फरार चल रहे दोनों प्रेमियों को भी गिरफ्तार किया

हरियाणा में रोहतक के गांव मूंगाण से एक सनसनीखेज वारदात सामने आई थी, जहां एक दूध बचने वाले व्यापारी की बेदर्दी से हत्या कर मारुति वैन में जला दिया गया था. अब इस मामले में पुलिस ने दो और आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने हत्या का कारण अवैध संबंध बताया है. पुलिस ने खुलासा करते हुए बताया कि मृतक की पत्नी और साली ने अपने प्रेमियों के साथ मिलकर हत्या की पूरी साजिश रची थी.

दरअसल, रोहतक पुलिस ने मुंगाण के रहने वाले दूध का काम करने वाले संदीप की हत्या की वारदात को सुलझा लिया है. पुलिस ने पहले ही मृतक संदीप की पत्नी और साली को गिरफ्तार कर लिया था. पुलिस ने फरार चल रहे दोनों प्रेमियों को भी गिरफ्तार करने में सफलता हासिल कर ली है. संदीप की पत्नी और साली पहले ही न्यायिक हिरासत में जेल में बंद है. आरोपियों को सोमवार को अदालत में पेश किया गया है. अदालत के आदेश पर आरोपियों को तीन दिन के पुलिस रिमांड पर हासिल किया गया है. मामले की गहनता से जांच की जा रही है.

उप पुलिस अधीक्षक सज्जन कुमार ने बताया दिनांक 28 जनवरी को गांव मुगाण में रुड़की रोड पर जली हुई अवस्था में मारुति वैन मिली थी जिसमें संदीप नाम के व्यक्ति की जली हुई अवस्था में लाश बरामद हुई थी. पुलिस ने पोस्टमॉर्टम करवाकर लाश को अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को सौंप दिया. मृतक के पिता राजेन्द्र की शिकायत के आधार पर मृतक की पत्नी और अन्य लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करवाया था. 

डीएसपी सज्जन सिंह ने बताया कि जांच में सामने आया कि संदीप की पत्नी मूर्ति ने गीता, मनीष और विकास के साथ मिलकर संदीप की हत्या करने का प्लान बनाया. इसके लिए वारदात से कुछ दिनों पहले ही गीता अपनी बहन के पास आ गई. 27 और 28 जनवरी की रात को मूर्ति ने अपनी बहन के साथ मिलकर संदीप को नींद की गोलियां खिलाई. गोली खाने के बाद बेहोश होने पर मूर्ति और गीता ने अपने प्रेमी मनीष और विकास को घर पर बुला लिया. आरोपियों ने रस्सी से गला घोंटकर संदीप की हत्या कर दी. हत्या के बाद आरोपी संदीप को उसकी ही वैन में डालकर रुड़की रोड पर ले गए तथा पेट्रोल डालकर संदीप और वैन को आग लगा दी.

मूर्ति की बहन गीता की विकास उर्फ संजू के साथ दोस्ती थी. संदीप को इनकी दोस्ती के बारे में पता था और वह उनकी दोस्ती से नाखुश था. संदीप और मूर्ति के बीच भी अक्सर विवाद रहता था. दोनों बहनों ने मिलकर संदीप की हत्या का प्लान बनाया. इसके अलावा मृतक संदीप की करीब 17 से 18 लाख रुपये की इंश्योरेंस पॉलिसी भी थी. आरोपियों ने उसे हासिल करने के लिए वारदात को हादसा दर्शाने का प्रयास किया था. मूर्ति ने अपने साथियों से वादा किया था कि पॉलिसी के पैसे मिलने के बाद पैसे आपस में बांट लेंगे.

और पढ़ें

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें