scorecardresearch
 

कुर्बानी के लिए उधार खरीदा बकरा, रुपये न चुकाने पड़ें, इसलिए रची खुद के अपहरण की साजिश

वसीम ने बताया कि उसने दो दिन पहले एक हाजी साहब से ईद की कुर्बानी के लिए 15000 रुपये का उधार बकरा खरीदा था. लेकिन उसने बकरे की कीमत ना चुकाने को लेकर झूठा नाटक किया. इतना ही नहीं उसने अपहरण का वीडियो भी बनाया. पुलिस ने पूरे नाटक का पर्दाफाश कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया.

युवक ने अपने अपहरण का वीडियो बनाकर वायरल कर दिया (फोटो- आजतक) युवक ने अपने अपहरण का वीडियो बनाकर वायरल कर दिया (फोटो- आजतक)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दो दिन का उधार लेकर खरीदा था बकरा
  • पैसा ना चुका पाने पर किया खुद के अपहरण का नाटक

गाजियाबाद से एक अजब गजब मामला सामने आया है. यहां के मुरादनगर इलाके के नूरगंज में रहने वाले एक युवक ने कुर्बानी के लिए उधार खरीदे बकरे का पैसा ना चुका पाने पर खुद के अपहरण की साजिश रच डाली. इतना ही नहीं उसने अपने अपहरण का लाइव वीडियो भी बनाया और व्यापारी को भेजा, ताकि वह उससे बकरे के पैसे ना मांगे. 

वसीम ने बताया कि उसने दो दिन पहले एक हाजी साहब से ईद की कुर्बानी के लिए 15000 रुपये का उधार बकरा खरीदा था. लेकिन उसने बकरे की कीमत ना चुकाने को लेकर झूठा नाटक किया. इतना ही नहीं उसने अपहरण का वीडियो भी बनाया. पुलिस ने पूरे नाटक का पर्दाफाश कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. 

वीडियो किया वायरल
पुलिस ने जब वसीम के अपहरण केस की जांच की, तो पता चला कि उसने मुरादनगर में ही रहने वाले एक हाजी से ईद की कुर्बानी के लिए बकरा खरीदा था. उसने दो दिन में पैसे लौटाने का वादा किया था. लेकिन जब उसके पास हाजी को देने के लिए पैसे नहीं थे तो वह अपने साथियों से ही हाथ पैर बंधवाकर झाड़ी में छुप गया और अपनी ही किडनैपिंग का वीडियो बनाकर वायरल कर दिया. 

वीडियो में देखा जा सकता है कि आरोपी के हाथ पैर बंधे हैं और वह खेत में पड़ा है. आरोपी ने यह वीडियो खुद बनाया था और बकरा बेचने वाले व्यापारी को गुमराह किया था. हालांकि, पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर पूरे नाटक का पर्दाफाश किया. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें