scorecardresearch
 

प्रयागराज मर्डर में पुलिस का दावा- एकतरफा प्यार के चलते किया गया था 4 लोगों का कत्ल

फाफामऊ क्षेत्र में चार लोगों की सामूहिक हत्या एकतरफा प्यार के चक्कर में की गई थी. एक अभियुक्त से की गई पूछताछ में इस बात का खुलासा हुआ है. पुलिस अब डीएनए भी कराने की तैयारी में है.

प्रयागराड मर्डर के खिलाफ लोगों का फूटा गुस्सा (PTI) प्रयागराड मर्डर के खिलाफ लोगों का फूटा गुस्सा (PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • फाफामऊ क्षेत्र में चार लोगों की सामूहिक हत्या का मामला
  • बेटी और बेटे समेत दंपति की हुई थी नृशंस हत्या
  • पुलिस को विवेचना में मिला अहम सुराग

यूपी में प्रयागराज के फाफामऊ क्षेत्र में चार लोगों की सामूहिक हत्या के मामले में पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है. आरोपी से पूछताछ के बाद पुलिस ने खुलासा किया कि गिरफ्तार आरोपी पवन सरोज हत्या में शामिल था. पवन लड़की को परेशान कर रहा था. साथ ही मृतका के मोबाइल पर मैसेज भेज रहा था, ज​बकि लड़की उसे मना कर रही थी. एकतरफा प्यार के चलते ही आरोपी ने लड़की समेत परिवार के चार लोगों की बेरहमी से हत्या कर दी.

इस मामले में पुलिस ने आठ आरोपियों को हिरासत में लिया था. दो पुलिसकर्मी भी सस्पेंड कर दिए गए थे. अंतिम मैसेज और वैज्ञानिक साक्ष्य और जांच में सहयोग न किए जाने के आधार पर पवन सरोज की गिरफ्तारी की गई. हत्या में शामिल अन्य आरोपियों को लेकर पुलिस छानबीन कर रही है. पुलिस के सामने पवन सरोज बार-बार अपना बयान बदल रहा है.

क्या कह रही पुलिस?

कॉल डिटेल, डीएनए प्रोफाइल के आधार पर कार्रवाई की जा रही है. जांच में पता चला है कि नामजद मुकदमे में मृतक पक्ष के भाई से आरोपी का विवाद था. मामले में नामजद अभियुक्तों के खिलाफ कोई सबूत पुलिस को नहीं मिला है. आगे भी पुलिस की विवेचना कॉल डिटेल्स, डीएनए रिजल्ट्स के आधार पर की जाएगी.

सीएफएसएल जांच और डीएनए प्रोफाइल के बाद चार सामूहिक हत्याओं की गुत्थी सुलझ सकती है. एडीजी प्रेम प्रकाश ने ट्वीट कर मामले में जानकारी दी कि पवन सरोज ने लड़की के मोबाइल पर मैसेज भेजा था. लड़की ने अंतिम मैसेज आई हेट यू लिखकर पवन सरोज को भेजा था. प्रयागराज पुलिस इस मैसेज के आधार पर पवन से पूछताछ कर रही है.

अपने ट्वीट के कमेंट में एडीजी ने लिखा, मृतक लड़की होनहार छात्रा थी. छत्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय से स्नातक कर चुकी थी. विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रही थी. प्रयागराज के फाफामऊ इलाके में एक ही परिवार के चार लोगों की हत्या के मामले में पुलिस हत्यारों के करीब पहुंच चुकी है. एडीजी प्रेम प्रकाश के मुताबिक, एकतरफा प्यार के चक्कर में सामूहिक हत्याकांड को अंजाम दिया गया है. 

आरोपी के शरीर पर मिले चोट के निशान, कपड़ों पर लगा था खून

युवती के मोबाइल में अंतिम मैसेज के आधार पर पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार किया गया युवक लगातार युवती के मोबाइल पर मैसेज भेजा करता था. हत्या के दिन युवती के मोबाइल पर युवक ने लास्ट मैसेज भेजा था. उसके बाद से उसके मोबाइल पर कोई मैसेज नहीं आया. गिरफ्तार किए गए युवक के शरीर पर कई जगह चोट के निशान और उसके कपड़े पर खून के धब्बे भी पाए गए.

हालांकि गिरफ्तार किया गया युवक पुलिस की जांच में सहयोग नहीं कर रहा है. जुर्म भी कुबूल नहीं कर रहा है. एडीजी प्रेम प्रकाश के मुताबिक, सामूहिक दुष्कर्म के बाद युवती की हत्या की गई है. उसके घर से मिले उसके शैक्षिक अभिलेख के मुताबिक युवती बालिग है. हालांकि अभी भी सामूहिक हत्याकांड में कई ऐसे अनसुलझे सवाल हैं, जिसका जवाब पुलिस के पास भी नहीं है. पुलिस गिरफ्तार किए गए युवक का डीएनए टेस्ट कराने की तैयारी में है.

मृतका के मोबाइल से आयु का प्रमाण मिला है, जिसमें उसकी जन्म तिथि 4 जून 1996 लिखी है. इस मामले में पॉक्सो की धाराएं कम की जा रही हैं. मृतक लड़की के साथ दुष्कर्म की पुष्टि हुई है. मृतका की मां के साथ दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हो सकी है. गिरफ्तार आरोपी के शरीर पर चोट के निशान हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×