scorecardresearch
 

टिकरी बॉर्डर: किसान आंदोलन में हिस्सा लेने आई युवती के साथ बलात्कार, बाद में कोरोना से मौत, केस दर्ज

किसान आंदोलन में हिस्सा लेने आई पश्चिम बंगाल की युवती के साथ बलात्कार के मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है. टिकरी बॉर्डर पर किसान सोशल आर्मी चलाने वाले अनूप और अनिल मलिक समेत 6 आरोपी हैं.

सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बंगाल से टिकरी बॉर्डर आई थी महिला
  • आंदोलन से जुड़े लोगों पर रेप का आरोप

किसान आंदोलन में हिस्सा लेने आई पश्चिम बंगाल की युवती के साथ बलात्कार के मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है. युवती के पिता की शिकायत पर शहर थाना पुलिस ने टिकरी बॉर्डर पर किसान सोशल आर्मी चलाने वाले अनूप और अनिल मलिक समेत 6 के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है. पुलिस का कहना है कि आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

बताया जा रहा है कि युवती 11 अप्रैल को आरोपियों के साथ पश्चिम बंगाल से दिल्ली आई थी. किसान आंदोलन में हिस्सा लेने के दौरान उसके साथ बलात्कार की घटना हुई. युवती की 30 अप्रैल को कोरोना संक्रमण से मौत हो गई. मौत से करीब चार दिन पहले युवती को शिवम हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था, जहां बलात्कार की बात सामने आई थी.

आरोप है कि टिकरी बॉर्डर पर किसान सोशल आर्मी चलाने वाले अनूप और अनिल मलिक समेत 4 लोगों ने युवती के साथ बलात्कार किया. वह दिल्ली से टिकरी बॉर्डर पर आरोपियों के साथ ही पहुंची थी. किसान नेता लगातार इस मामले से पल्ला झाड़ते आए हैं.

युवती के पिता की शिकायत पर फरीदाबाद पुलिस ने आईपीसी की धारा 365, 342, 354, 376 और 120 बी के तहत मामला दर्ज किया है. मामले की जांच के लिए डीएसपी की अगुवाई में तीन इंस्पेक्टर और साइबर सेल को मिलाकर एसआईटी बनाई गई है. शहर थाना प्रभारी का कहना है कि आरोपियों की जल्द ही गिरफ्तारी होगी.
 
पुलिस ने सभी आरोपियों पर सामूहिक दुष्कर्म के साथ-साथ अपहरण, ब्लैकमेलिंग, बंधक बनाने और धमकी देने की धाराओं में भी मुकदमा दर्ज किया है. पुलिस ने फिलहाल चार किसान नेता और दो आंदोलन से जुड़ी महिला वॉलंटियर को भी आरोपी बनाया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें