scorecardresearch
 

UP: बैंक का कर्ज, ऊपर से बेटी की शादी की टेंशन, किसान ने दे दी जान

बागपत जनपद में कर्ज से परेशान एक किसान के आत्महत्या करने का मामला सामने आया है. बताया जा रहा है कि मृतक किसान ने बैंक और सोसाइटी से कर्ज ले रखा था. जिसे वो चुका नहीं पा रहा था और फरवरी में उसे बेटी की शादी करनी थी. इसके लिए उसके पास पैसा नहीं था.

कर्ज से परेशान किसान ने की आत्महत्या कर्ज से परेशान किसान ने की आत्महत्या
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बागपत में किसान ने की आत्महत्या
  • बैंक के कर्ज से परेशान था किसान
  • बेटी की शादी के लिए नहीं जुटा पा रहा था पैसा

उत्तर प्रदेश के बागपत जनपद में कर्ज से परेशान एक किसान के आत्महत्या करने का मामला सामने आया है. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल में भेजा. मृतक अनिल शहर कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत बिहारीपुर गांव का रहने वाला था और खेती कर अपने परिवार का पालन पोषण कर रहा था. 

कर्ज से परेशान किसान ने की आत्महत्या 

बताया जा रहा है कि मृतक किसान ने बैंक और सोसाइटी से कर्ज ले रखा था. जिसे वो चुका नहीं पा रहा था और फरवरी में उसे बेटी की शादी करनी थी. इसके लिए उसके पास पैसा नहीं था. इन बातों से परेशान होकर किसान अनिल ने फांसी लगा खुदकुशी कर ली. इस घटना के बाद से गांव में मातम का माहौल है और मृतक परिजन सदमे में हैं. पुलिस मामले की जांच में जुट गई है.  

इंद्रपाल सिंह ने दी प्रशासन को चेतावनी 

वहीं इस घटना की सूचना मिलते ही भारतीय किसान यूनियन बागपत नरेश टिकैत के प्रतिनिधि इंद्रपाल सिंह अस्पताल पहुंचे. जहां उन्होंने मृतक के परिवार से मुलाकात की और हर संभव मदद का भरोसा दिया. इंद्रपाल सिंह ने कहा कि अगर सरकार मृतक के बच्चों की कोई मदद नहीं करेगी तो वो उसके आंदोलन करेंगे. 

गांव में मातम का माहौल 

किसान की खुदकुशी के बाद से गांव में मातम का माहौल है. गांव वालों का कहना है कि बढ़ती मंगाई की वजह से किसान पर सरकारी कर्ज बढ़ गया था. बिजली, पानी के अलावा पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार इजाफ हो रहा है. जिसकी वजह से वो अपना कर्ज नहीं उतार पा रहा था और उसके पास बेटी की शादी के लिए पैसा नहीं बचे थे. इससे तंग आ कर उसे यह कदम उठाना पड़ा. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×