scorecardresearch
 

पत्नी से बात करने का किया विरोध, दोस्तों ने ही कर दिया दोस्त का कत्ल

डीसीपी हरीश चंद्र ने बताया कि 2 मार्च को शाहबेरी गांव में रहने वाले फिरोज की पुलिस को लाश मिली थी. इस मामले में पुलिस ने जांच के दौरान पाया कि फिरोज का झगड़ा उसके कुछ दोस्तों के साथ हुआ था.

X
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 2 मार्च को शाहबेरी गांव में रहने वाले फिरोज की पुलिस को लाश मिली थी
  • मृतक ने दोनों आरोपियों को उसकी पत्नी से बात करने पर विरोध जताया था

ग्रेटर नोएडा पुलिस ने हत्या के एक मामले में बेहद चौंकाने वाला खुलासा किया है. 2 मार्च को हुई एक हत्या के मामले में पुलिस ने आशु जाट गैंग के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया है. डीसीपी हरीश चंद्र ने बताया कि 2 मार्च को शाहबेरी गांव में रहने वाले फिरोज की पुलिस को लाश मिली थी. इस मामले में पुलिस ने जांच के दौरान पाया कि फिरोज का झगड़ा उसके कुछ दोस्तों के साथ हुआ था. यह झगड़ा फिरोज की बीवी को लेकर हुआ था. 

लाश मिलने के बाद पुलिस ने इलाके के लोगों से पूछताछ की तो पुलिस का शक सुलेमान और नज़रुल इस्लाम पर जाकर ठहर गया. दोनों का फिरोज के साथ उठना बैठना और अक्सर साथ शराब पीना भी हुआ करता था. हरीश चन्दर ने बताया कि इस मामले की जांच के दौरान पुलिस ने बुधवार को सुलेमान और नजरुल इस्लाम को गिरफ्तार किया. मृतक फिरोज और आरोपी एक जगह ही रहकर राज मिस्त्री का काम करते थे.  

घटना वाले दिन तीनों बैठकर शराब पी रहे थे. इसी दौरान शराब के नशे में फिरोज ने दोनों आरोपियों पर इल्जाम लगाया कि वह उसकी पत्नी पर गलत नजर रखते हैं. मृतक फिरोज ने दोनों से कहा कि वे उसकी पत्नी से बात क्यों करते हैं. इसी बात को लेकर दोनों पक्षों में झगड़ा हो गया और दोनों आरोपियों ने उसकी हत्या कर दी थी. डीसीपी ने बताया गिरफ्तार हुए दो आरोपियों में से एक सुलेमान, कुख्यात बदमाश आशु जाट के गैंग का सक्रिय सदस्य है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें