scorecardresearch
 

छेड़छाड़ के विरोध पर जलाया... गुलनाज केस का मुख्य आरोपी 18 दिन बाद गिरफ्तार

बिहार के हाजीपुर में गुलनाज को जलाकर मार डालने के मामले में कार्रवाई की मांग तेज हो गई है. घटना के 18 दिन बाद पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार किया है, लेकिन अभी भी दो आरोपी फरार हैं.

X
धरने पर बैठे गुलनाज के परिजन
धरने पर बैठे गुलनाज के परिजन

बिहार के हाजीपुर में गुलनाज को जलाकर मार डालने के मामले में कार्रवाई की मांग तेज हो गई है. घटना के 18 दिन बाद पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार किया है, लेकिन अभी भी दो आरोपी फरार हैं. गुलनाज के परिवार का आरोप है कि आरोपी धमका रहे हैं. वहीं, पुलिस का कहना है कि हम जल्द बाकी आरोपियों को पकड़ लेंगे.

आपको बता दें कि गुलनाज को 30 अक्टूबर की देर शाम को गांव के ही तीन लोगों ने केरोसिन डालकर जिंदा जला दिया था. उससे हाजीपुर के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां नगर थाना के एक पुलिस अधिकारी ने उसका बयान लिया था. अगले दिन गुलनाज को पटना के PMCH में एडमिट कराया गया. इसके बाद उसका दो वीडियो सामने आया.

इन वीडियो में गुलनाज ने अपनी आपबीती बताई. वीडियो वायरल होने के बाद एसडीपीओ महानार घटनास्थल पहुंचते हैं, लेकिन परिजन नहीं मिलते हैं. 2 तारीख को स्थानीय चंदपुरा थाने में मामला दर्ज किया गया. 14 -15 नवंबर की रात गुलनाज की PMCH में मौत हो जाती है. पटना में परिजन धरने पर बैठ जाते हैं. 

15 तारीख की देर रात शव, चंदपुरा पहुंचता है. पुलिस की देख-रेख में शव का अंतिम संस्कार किया गया है. 15 दिन बाद भी आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने के आरोप में स्थानीय चंदपुरा थाने के एसएचओ को निलंबित कर दिया जाता है. आज यानी 17  नवंबर को पहली गिरफ्तारी होती है.

गुलनाज को जिंदा जलाये जाने के मामले में एक आरोपी को पुलिस गिरफ्तार कर लेती है. एफआईआर में नामजद मुख्य आरोपी चन्दन को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. बाकि 2 आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की ताबड़तोड़ छापेमारी जारी है.  

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें