scorecardresearch
 

बिहार: भागलपुर में दूसरी मिनी गन फैक्ट्री पकड़ी गई, कई हथियार बरामद

भागलपुर जिले में गोराडीह और लोदीपुर का इलाका अवैध हथियार बनाने का अड्डा बनता जा रहा है. एक महीने के अंदर उस इलाके में दूसरी बार मिनी गन फैक्ट्री का भंडाफड़ हुआ है. पुलिस ने मौके कई हथियार और उन्हें बनाने का सामान बरामद किया है. साथ ही एक शख्स को भी मौके से गिरफ्तार किया गया है.

भागलपुर में एक माह में दूसरी बार मिनी गन फैक्ट्री का भंडाफोड़ (फोटो आजतक) भागलपुर में एक माह में दूसरी बार मिनी गन फैक्ट्री का भंडाफोड़ (फोटो आजतक)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • एक माह में दूसरी बार मिनी गन फैक्ट्री का भंडाफोड़
  • पुलिस ने अर्द्ध निर्मित हथियारों का जखीरा बरामद किया
  • चुनाव से पहले अवैध हथियार निर्माण में लगे तस्कर

बिहार की भागलपुर पुलिस आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर लगातार छापेमारी अभियान चला रही है. इसी कड़ी में पुलिस को गुप्त सूचना मिली कि लोदीपुर थाना के चकधरिया में मिनी गन फैक्ट्री चल रही है. डीएसपी निसार अहमद शाह के नेतृत्व में लोदीपुर थाना पुलिस, जीरोमाइल थाना पुलिस और जोग्सर थाना पुलिस ने संयुक्त रूप से छापेमारी की. छापेमारी के दौरान पुलिस ने कई हथियार और इन्हें बनाने का सामान भारी मात्रा में बरामद किया है. 

पुलिस ने इस कार्रवाई में मुख्य आरोपी चकदरिया निवासी मोहम्मद मुजम्मिल को भी गिरफ्तार कर लिया है. पूरे मामले में जिले के एसएसपी आशीष भारती ने बताया कि पिछले दिनों उन्हें मिनी गन फैक्ट्री के संचालन की गोपनीय जानकारी मिली थी. जिसके बाद पुलिस ने टीम ने कार्रवाई की गई. यह सफलता अपराध नियंत्रण मामले में बड़ी उपलब्धि है. 

मौके से पुलिस ने ये सामान जब्त किए 

मौके से  पुलिस ने छह अर्धनिर्मित कट्टा, 315 बोर कारतूस के दो खोखे, 32 लोहे का  बना कट्टा तैयार करने का बेस, 32 हैमर, दो बड़े हथियार बनाने में काठ का  बना वट, 32 रेती, सात लोहा काटने वाली रेती लगा हेड मशीन, दस हथौड़ी, दो सरसी, दो पेचकश, आठ बैरल, 36 ट्रिगर, एक लोहा पीटने वाला रेल पटरी का टुकड़ा बरामद किया गया है. 

पहले भी पकड़ी गई थी मिनी गन फैक्ट्री 

पिछले विधानसभा चुनाव की तरह ही इस बार भी विधानसभा चुनाव से पहले अवैध हथियार बनाने की मिनी गन फैक्ट्री पकड़ी गयी है.  2015 में लोदीपुर-गोराडीह के भयगांव और उस्तु के खलखलिया धार के पास भी मिनी गन फैक्ट्री पकड़ी गई थी. उस समय भी हथियार तस्कर को पुलिस ने गिरफ्तार किया था. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें