scorecardresearch
 

MP: लड़की ने फांसी लगाकर दी जान, परिजन बोले- लव जिहाद के चलते की आत्महत्या

परिजनों का आरोप है कि जब उनकी बेटी ने आदिल से दोस्ती खत्म करने की कोशिश की तो उसने उनकी बेटी के साथ मारपीट की और उसे प्रताड़ित भी किया. परिजनों का आरोप है कि इसी वजह से उनकी बेटी ने आत्महत्या कर ली

प्रतीकात्मक चित्र प्रतीकात्मक चित्र
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भोपाल में लड़की ने फांसी लगाकर की आत्महत्या
  • परिजनों का आरोप- लव जिहाद के चलते दी जान
  • मौके से सुसाइड नोट बरामद 

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में एक लड़की ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. लड़की ने एक सुसाइड नोट भी लिखा है जो फिलहाल पुलिस के हाथ लग गया है. सुसाइड नोट में लड़की ने अपनी मौत के लिए आदिल नाम के लड़के को जिम्मेदार बताया है. लड़की के परिजनों का आरोप है कि आदिल ने उनकी बेटी से नाम बदलकर दोस्ती बढ़ाई थी. 

सुसाइड नोट बरामद 

आपको बता दें कि ये घटना भोपाल के टीटी नगर इलाके की है. यहां रहने वाली एक युवती ने शुक्रवार को घर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. युवती के पास से एक सुसाइड नोट मिला था जिसमें लिखा था, 'मेरा नाम पूजा है. मैं आत्महत्या करने जा रही हूं. इसका जिम्मेदार आदिल खान है. आदिल खान सन ऑफ खलीक खान'.

सुसाइड नोट में आदिल का मोबाइल नंबर और उसके घर का पता भी लिखा हुआ था. घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने संबंधित धाराओं में केस दर्ज कर लिया और आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया. 

परिजनों का लव जिहाद का आरोप

इस बीच शुक्रवार को युवती के परिजन टीटी नगर थाने पहुंचे और आरोपी युवक के खिलाफ लव जिहाद का आरोप लगा दिया. युवती के पिता और भाई का आरोप है आदिल नाम के लड़के ने उनकी बेटी से बबलू नाम बता कर दोस्ती की थी. बाद में जब उनकी बेटी को पता चला उसके दोस्त का नाम बबलू नहीं आदिल है तो वह उससे दूर होने की कोशिश करने लगी.

देखें- आजतक LIVE TV

परिजनों का आरोप है कि जब उनकी बेटी ने आदिल से दोस्ती खत्म करने की कोशिश की तो उसने उनकी बेटी के साथ मारपीट की और उसे प्रताड़ित भी किया. परिजनों का आरोप है कि इसी वजह से उनकी बेटी ने आत्महत्या कर ली

क्या बनेगा धर्म स्वातंत्र्य अध्यादेश का पहला केस?
 
परिजनों के लव जिहाद वाले आरोपों की फिलहाल पुलिस जांच कर रही है और आधिकारिक रूप से इसकी पुष्टि अभी नहीं हुई है. वहीं दूसरी तरफ शनिवार शाम को मध्यप्रदेश में लव जिहाद के खिलाफ धर्म स्वतंत्र अध्यादेश लागू कर दिया गया है, ऐसे में मृतका के परिजन और हिंदू संगठन इस मामले में लव जिहाद की धाराएं जोड़ने की मांग कर रहे हैं.

अगर पुलिस की तफ्तीश में परिजनों के आरोप सच पाए जाते हैं तो यह नए कानून के तहत दर्ज होने वाला पहला मामला बन सकता है.

ये भी पढ़ें-

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें