scorecardresearch
 

आसाराम की जमानत याचिका का राजस्थान सरकार ने किया विरोध, SC में दायर किया हलफनामा

सुप्रीम कोर्ट ने आसाराम के वकील से कहा कि इस दौरान आप राजस्थान सरकार के हलफनामे पर अपना जवाब भी दाखिल करिए. आसाराम की जमानत याचिका पर अगली सुनवाई अब शुक्रवार यानी 11 जून को होगी.

आसाराम (फाइल फोटो) आसाराम (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सुप्रीम कोर्ट ने आसाराम के वकील से जवाब दाखिल करने को कहा
  • आसाराम की जमानत याचिका पर 11 जून को होगी अगली सुनवाई

रेप के मामले में सजायाफ्ता आसाराम ने सुप्रीम कोर्ट में जमानत अर्जी दाखिल की है. आसाराम ने सुप्रीम कोर्ट से अपने उपचार के लिए जमानत देने की मांग की है. राजस्थान सरकार ने आसाराम की जमानत याचिका का विरोध किया है. राजस्थान सरकार ने आसाराम की जमानत याचिका का विरोध करते हुए सर्वोच्च न्यायालय में हलफनामा दायर किया है.

राजस्थान सरकार ने अपने हलफनामे में कहा है कि आसाराम चिकित्सा और उपचार की आड़ में अपनी हिरासत की जगह को बदलना चाहते हैं. उन्होंने पहले एलोपैथिक चिकित्सा के लिए जमानत याचिका दाखिल की थी. अब आयुर्वेदा सेंटर पर उपचार के लिए जमानत मांग रहे हैं. राजस्थान सरकार ने कहा है कि वे ऐसा सिर्फ इसलिए कर रहे हैं क्योंकि उनकी पिछली याचिकाएं खारिज हो गई थीं.

राजस्थान सरकार की ओर से दायर हलफनामे में कहा गया है कि आसाराम ने तीसरी बार मेडिकल ग्राउंड पर सजा से बचने की कोशिश की है. सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान आसाराम के वकील ने अपना जवाब दाखिल करने के लिए कोर्ट से समय मांगा. सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान कहा कि अभी कल ही हमें हलफनामा मिला है. हमें भी अभी इसे पढ़ना है.

सुप्रीम कोर्ट ने आसाराम के वकील से कहा कि इस दौरान आप राजस्थान सरकार के हलफनामे पर अपना जवाब भी दाखिल करिए. सुप्रीम कोर्ट ने आसाराम की जमानत याचिका पर सुनवाई शुक्रवार तक टाल दी. आसाराम की जमानत याचिका पर अगली सुनवाई अब शुक्रवार यानी 11 जून को होगी. गौरतलब है कि आसाराम अपने आश्रम में रहने वाली लड़कियों से रेप के मामले में सजायाफ्ता हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें