scorecardresearch
 
क्राइम न्यूज़

देवरानी-जेठानी को भगा कर ले गया था करीबी र‍िश्तेदार, इस ट्र‍िक से पकड़ा गया आरोपी

 देवरानी-जेठानी को भगा कर ले गया था करीबी र‍िश्तेदार, इस ट्र‍िक से पकड़ा गया आरोपी
  • 1/5

अक्सर देखने में आता है कि एक प्रेमी अपनी प्रेमिका को भगा कर लेकर जाता है लेकिन इधर तो कुछ और ही मामला है. एक युवक ने देवरानी और जेठानी दोनों का अपहरण कर लिया. यह मामला मध्य प्रदेश के व‍िद‍िशा ज‍िले का है. (व‍िद‍िशा से व‍िवेक ठाकुर की र‍िपोर्ट)

 देवरानी-जेठानी को भगा कर ले गया था करीबी र‍िश्तेदार, इस ट्र‍िक से पकड़ा गया आरोपी
  • 2/5

मध्य प्रदेश में विदिशा के पीतल मिल क्षेत्र में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया जिसमें भोपाल की दो महिलाओं का अपहरण कर ल‍िया गया था. वह दोनों आपस में देवरानी और जेठानी हैं. अपहरणकर्ताओं से महिलाओं के परिजनों द्वारा छुड़ाने  के दौरान पीतल म‍िल चौराहे पर तमाशा देखा गया. मामला सिविल लाइन थाने तक पहुंच गया है पुलिस मामले की जांच में जुटी है.

 देवरानी-जेठानी को भगा कर ले गया था करीबी र‍िश्तेदार, इस ट्र‍िक से पकड़ा गया आरोपी
  • 3/5

यह मामला पीतल म‍िल क्षेत्र का हैं जहां महिला के परिजनो ने अपहरणकर्ता को जमकर धुना और बाद में उसे सिविल लाइन थाने के हवाले कर दिया. गौरतलब है कि दोनों महिलाएं देवरानी, जेठानी के रूप में भोपाल में निवास करती हैं. 

 देवरानी-जेठानी को भगा कर ले गया था करीबी र‍िश्तेदार, इस ट्र‍िक से पकड़ा गया आरोपी
  • 4/5

महिलाओं के परिजनों के मुताबिक, धर्मेंद्र ओसवाल नामक युवक अपने एक रिश्तेदार के साथ दोनों महिलाओं को अपहरण कर ले गया था. भोपाल के अलावा कई अन्य जगहों पर महिलाओं को रखा गया.

महिला की जिद पर उक्त आरोपी विदिशा तक लेकर आया था. विदिशा में महिला का मायका है. विदिशा आने की सूचना महिला द्वारा किसी तरह से अपने पति को दी गई. उसके बाद महिला के पति और देवर ने पीतल म‍िल चौराहे पर घेराबंदी कर धर्मेंद्र ओसवाल को पकड़ा और जमकर मारपीट की. उसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस के हवाले किया. सिविल लाइन थाने में मामले की शिकायत की है. शिकायतकर्ता होने पर अपहरण के तहत मामला दर्ज करने की मांग की है.

 देवरानी-जेठानी को भगा कर ले गया था करीबी र‍िश्तेदार, इस ट्र‍िक से पकड़ा गया आरोपी
  • 5/5

उधर सिविल लाइन थाना टीआई कमलेश सोनी ने कहा कि सभी पक्षों के बयान लिए जा रहे हैं, उसके बाद ही आगे की कार्यवाही की जाएगी. उन्होंने माना कि दोनों महिलाओं की भोपाल में अलग-अलग थानों में गुम इंसान का मामला दर्ज है. सिविल लाइन थाना टीआई के मुताबिक, महिला और आरोपी एक ही अस्पताल में कार्य भी करते हैं. पुलिस सभी पहलुओं का बारीकी से अध्ययन कर जांच कर रही है. बताया गया है कि आरोपी के पास से एक महिला और बच्ची को मुक्त कराया गया है. एक महिला उन्हीं के कब्जे में है.