scorecardresearch
 
क्राइम न्यूज़

शामलीः पहले पूजा पाठ के साथ शुद्धिकरण फिर घरवापसी, 19 मुस्लिमों ने किया धर्म परिवर्तन

धर्मांतरण
  • 1/8

उत्तर प्रदेश के शामली जिले में धर्म परिवर्तन का मामला सामने आया है, जहां 19 मुसलमानों का शुद्धिकरण कराकर कथित घरवापसी कराई गई है. महंत यशवीर महाराज ने पूरे रीति-रिवाज से 19 लोगों को हिंदू धर्म में दीक्षित किया है. इन सभी लोगों का दावा है कि पहले उनको जबरन दबाव में लेकर धर्म परिवर्तन कराया गया था. ये सभी लोग 3 परिवारों के सदस्य बताए जा रहे हैं.

पूजा पाठ
  • 2/8

दावा किया गया है कि 12 वर्ष पूर्व मुस्लिम बहुमूल्य क्षेत्र में बंजारा बिरादरी के लोगों का जबरन धर्मांतरण हुआ था. अब सोमवार को शामली के कांधला सिद्ध पीठ सूरजकुंड मंदिर में 19 लोगों की घर वापसी धार्मिक रीति-रिवाज से हुई और सभी को हिंदू धर्म में दीक्षित किया गया. धर्म परिवर्तन करने वाले सभी लोगों का गायत्री मंत्र के उच्चारण के साथ-साथ हवन कराकर  शुद्धिकरण किया गया.
 

3 परिवार
  • 3/8

महंत यशवीर महाराज ने कहा कि 19 लोग हिंदू धर्म को छोड़कर दूसरे धर्म में गए थे. अब उन 19 लोगों की कथित घर वापसी कराई है. जिसमें 7 महिलाएं, 4 पुरुष और 4 बच्चे शामिल हैं. इन सभी लोगों ने पहले इस्लाम धर्म अपना लिया था, लेकिन अब ये सभी वापस हिंदू बन गए हैं. 

महंत ने कराया पूजा पाठ
  • 4/8

महंत के मुताबिक इन सभी ने धर्म परिवर्तन के बाद अपना नाम बदलकर मुस्लिम कर लिया था. लेकिन एक बार फिर इन 19 लोगों ने हिंदू धर्म अपना लिया है. और अपने नाम भी बदल रहे हैं.

सूरज कुंड मंदिर
  • 5/8

महंत यशवीर के अनुसार इन सभी को हिंदू धर्म में वापसी कराने के लिए, फिर पूरे धार्मिक रीति से पूजा-पाठ का आयोजन किया गया. कांधला स्थित सूरज कुंड मंदिर पर एक धर्म परिवर्तन कार्यक्रम के दौरान सभी का शुद्धिकरण कराया गया, फिर उस सभी को हिंदू धर्म में शामिल कर लिया गया.
 

डरा कर कराया था धर्मांतरण
  • 6/8

धर्म परिवर्तन करने वाले सभी 19 लोगों ने कहा कि कुछ मुस्लिम लोगों ने उन्हें डराया धमकाया था. सोमवार को महंत यशवीर महाराज ने उनकी हिंदू धर्म में वापसी करा दी है, जिससे वे बेहद खुश हैं.

मंदिर में अनुष्ठान
  • 7/8

महंत ने बताया कि इन लोगों ने इस्लाम धर्म के लोगों से भयभीत होकर 15 वर्ष पूर्व इस्लाम धर्म अपना लिया था. जब हमने इनके सामने अपने विचार रखे तो बात इनकी समझ में आई और उन्होंने फिर दोबारा अपने घर वापसी करते हुए हिंदू धर्म अपना लिया है. उन्होंने ने बताया कि आरएसएस के मुखिया मोहन भागवत ने भी कहा था कि सबका रक्त एक है चाहे वह हिंदू हो या मुस्लिम. जैसे कि हिंदू गुर्जर में चौहान लिखते हैं और मुस्लिम गुर्जर भी चौहान लिखते हैं. अगर दोनों का रक्त देखा जाए तो रक्त एक ही होगा.

विहिप भी शामिल
  • 8/8

विश्व हिंदू परिषद के नेता सोहन वीर सिंह ने बताया कि प्रदेश में जिन लोगों ने धर्म परिवर्तन कर लिया था. उन लोगों के घर वापसी के लिए महंत यशवीर दिन रात लगे हुए हैं. जहां भी लोग धर्म परिवर्तन कर मुस्लिम बन रहे हैं, वहां उनकी घर वापसी कराने के लिए भी विश्व हिंदू परिषद उनके साथ है.