scorecardresearch
 
क्राइम न्यूज़

बाराबंकी: बैंक का PO बताकर करता था ठगी, रच डाली अपने ही अपहरण की साजिश

खुद को बैंक का PO बताकर लोगों से करता था ठगी का काम.
  • 1/6

यूपी की बाराबंकी पुलिस ने बैंक का पी.ओ. बनकर लाखों रुपये ठगने वाले एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है. यही नहीं इस शातिर ने अपने तकाजेदार यानी पैसा मांगने वालों से बचने के लिए अपने ही अपहरण की साजिश रच डाली. इसके लिए आरोपी ने फ़ोन पर मैसेज भेजकर अपने एक तकाजेदार से दो लाख की फिरौती मांग डाली. पुलिस ने इस मामले का मुकदमा दर्ज कर जब जांच शुरू की तो बड़ा खुलासा सामने आया. इस खुलासे ने सबको हैरत में डाल दिया. (इनपुट-सैयद रेहान मुस्तफ़ा)

गिरफ़्तारी से बचने के लिए रचा अपहरण का ढोंग.
  • 2/6

ये मामला नगर कोतवाली का है. जहां बाराबंकी में अपने अपहरण की साजिश रचने वाले आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. 6 जनवरी को पंकज गिरी नाम के व्यक्ति ने अपने दोस्त के अपहरण की शिकायत नगर कोतवाली में दर्ज कराई थी. पुलिस ने अपहरण की शिकायत पर तत्परता दिखाते हुए तेजी से मामले की जांच शुरू की.

मोबाइल पर मैसेज कर मांगी थी 2 लाख की फिरौती
  • 3/6

एसपी यमुना प्रसाद ने कोतवाल पंकज सिंह के नेतृत्व में सर्विलांस और स्वाट की टीमें लगा दीं. इसके बाद पुलिस ने गाजीपुर जनपद के रहने वाले अपह्रत अमरजीत चौहान को नगर क्षेत्र के असेनी से बरामद कर लिया. जब पुलिस ने आरोपी अमरजीत से पूछताछ की तो इस दौरान उसने सनसनीखेज खुलासा किया. आरोपी अमरजीत चौहान खुद को बैंक का पीओ बताकर लोगों को ठगने का काम करता था और उसी ने खुद के अपहरण की साज़िश रची थी. इसके लिए आरोपी ने अपने दोस्त पंकज गिरी के मोबाइल पर मैसेज कर 2 लाख की फिरौती मांगी थी.

कारतूस भी बरामद
  • 4/6

यही नहीं, आरोपी अमरजीत पर गाजीपुर जनपद के थाना दुल्लहपुर में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने के आरोप में उसके पिता और भाई जेल जा चुके हैं और अमरजीत फरार चल रहा था. पुलिस अफ़सरों का कहना है कि गिरफ्तारी से बचने के लिए अमरजीत बाराबंकी जनपद में शहर के कटरा इलाके में तीन-चार महीनों से एक मकान में किराए पर रह रहा था. आरोपी अमरजीत चौहान अपने दोस्त पंकज गिरी से काफी पैसे ले चुका था. अमरजीत के कब्जे से पुलिस ने एक असलहा और कारतूस भी बरामद किया है. 

आरोपी ने खुद के अपहरण का षड्यंत्र रचने की कहानी कबूली
  • 5/6

पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने बताया कि 6 दिसंबर को पंकज गिरी की तहरीर पर अमरजीत चौहान के अपहरण का मुकदमा लिखा गया था. जिसमें मैसेज के आधार पर 2 लाख की फिरौती मांगी थी. नगर कोतवाली पुलिस ने आरोपी अमरजीत को गिरफ्तार किया है इसके पास से तमंचा भी मिला है औऱ आरोपी को जेल भेज दिया गया है. साथ ही आरोपी ने खुद के अपहरण का षड्यंत्र रचने की कहानी को कबूल किया है

आरोपी को जेल भेज दिया गया है.
  • 6/6

पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने आगे बताया कि ये खुद को बैंक का पीओ बताकर कई लोगों से नौकरी दिलाने, प्लाट, गाड़ी देने के नाम पर पैसे ठग चुका है. इसके पिता ने भी इसको सम्पप्ति से बेदखल कर दिया है. फिलहाल आरोपी को जेल भेज दिया गया है और मामले की जांच की जा रही है.