scorecardresearch
 
क्राइम न्यूज़

बड़े भाई ने क‍िया सुसाइड, सदमा बर्दाश्त नहीं हुआ तो छोटे ने भी 24 घंटे में लगाया फंदा

बड़े भाई ने क‍िया सुसाइड, सदमा बर्दाश्त नहीं हुआ तो 24 घंटे में ही छोटे भाई ने भी लगाया फंदा
  • 1/5

मध्य प्रदेश के खरगोन से 80 किलोमीटर दूर बड़वाह में एक घर पर ऐसा दुख का पहाड़ टूटा कि देखने और सुनने वाले स्तब्ध रह गये. 24 घंटे के अंदर दो सगे भाइयों ने फांसी लगा कर जान दे दी.

बड़े भाई ने क‍िया सुसाइड, सदमा बर्दाश्त नहीं हुआ तो 24 घंटे में ही छोटे भाई ने भी लगाया फंदा
  • 2/5

पुलिस के अनुसार छोटे भाई आकाश ने नर्मदा के किनारे खेड़ीघाट श्मशान घाट पर बड़े भाई सोनू को मुखाग्नि दी और महज 18 घंटे के बाद घर के अंदर जाकर दरवाजा बंद कर पंखे से लटक कर फांसी लगा ली. 

बड़े भाई ने क‍िया सुसाइड, सदमा बर्दाश्त नहीं हुआ तो 24 घंटे में ही छोटे भाई ने भी लगाया फंदा
  • 3/5

परिजनों ने बताया कि सोनू की पत्नी पिछले कुछ समय से मायके गयी हुई थी और किसी बात को लेकर दोनों में विवाद था, इसी वजह से सोनू ने आत्महत्या कर ली. अब से 10 साल पहले सोनू और आकाश की बहन ने भी फांसी लगाकर आत्महत्या की थी.

बड़े भाई ने क‍िया सुसाइड, सदमा बर्दाश्त नहीं हुआ तो 24 घंटे में ही छोटे भाई ने भी लगाया फंदा
  • 4/5

आकाश आत्महत्या करने से एक दिन पहले बड़े भाई सोनू की शादी की फोटो घर वालों को बताते हुए रो रहा था. बड़े भाई की मौत का सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाने के कारण उसने आत्महत्या कर ली.

बड़े भाई ने क‍िया सुसाइड, सदमा बर्दाश्त नहीं हुआ तो 24 घंटे में ही छोटे भाई ने भी लगाया फंदा
  • 5/5

बड़वाह एसडीओपी मान सिंह ठाकुर का कहना है कि तिलक मार्ग निवासी सोनू की पत्नी करीब डेढ़ साल से अलग होकर इंदौर में रह रही है. दोनों के बीच विवाद भी चल रहा था, इसी वजह से सोनू ने आत्महत्या कर ली. इसके बाद से आकाश डिप्रेशन में आ गया और बड़े भाई की मौत का सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाया तो उसने भी फांसी लगा ली. फॉरेंसिक टीम घटनाओं की जांच कर रही है.