scorecardresearch
 
क्राइम न्यूज़

लॉकडाउन में घर जमाई बना दामाद तो साली को ले भागा, पकड़े जाने पर लड़की ने खाया जहर

लॉकडाउन में घर जमाई बना दामाद तो साली को ले भागा, पकड़े गए तो खाया जहर
  • 1/5

लॉकडाउन में जिंदगी ने कैसे-कैसे रंग दिखाए हैं जिन्हें उम्र भर भुलाया नहीं जा सकेगा. रिश्तोंं को और अपनों को जहां भरपूर वक्त देने का मौका लोगों को मिला वहीं कुछ रिश्ते भी लॉकडाउन की फुर्सत में बिगड़ गए. मध्‍य प्रदेश के विदिशा जिले में ससुराल में घर जमाई बनकर रह रहा दामाद, साली को लेकर ही भाग निकला. (व‍िद‍ि‍शा से व‍ि‍वेक ठाकुर की र‍िपोर्ट )

लॉकडाउन में घर जमाई बना दामाद तो साली को ले भागा, पकड़े गए तो खाया जहर
  • 2/5

नटेरन के पमारिया गांव में लॉकडाउन में कामकाज बंद होने के कारण दामाद 2 महीने तक घर जमाई बनकर ससुराल में रहा. इस बीच 17 साल की साली और उसके बीच प्रेम संबंध बन गए. दोनों की नज़दीकियां देख पत्नी और सास को शक हुआ लेकिन दामाद ने यह कहकर उन्हें चुप करा दिया कि वह उसकी छोटी बहन के जैसी है. यही दामाद 7 दिन पहले साली को ले भागा. 3 दिन पहले पुलिस उसे बरामद कर लाई. 

लॉकडाउन में घर जमाई बना दामाद तो साली को ले भागा, पकड़े गए तो खाया जहर
  • 3/5

शुक्रवार को साली ने अपने घर पर जहरीला पदार्थ खा लिया जिससे उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती किया गया. खास बात यह है कि इस दौरान उसकी बड़ी बहन भी इलाज कराने उसके साथ आई.

पमरिया गांव निवासी रिंकी की शादी करीब 5 साल पहले भोपाल के गौतम नगर में रहने वाले बृजेश अहिरवार के साथ हुई थी. रिंकी और बृजेश की दो संताने हैं. रिंकी ने बताया कि लॉकडाउन में काम बंद होने के कारण तंगी चल रही थी. माता पिता के कहने पर वह बृजेश को साथ लेकर अपने मायके आ गई.

लॉकडाउन में घर जमाई बना दामाद तो साली को ले भागा, पकड़े गए तो खाया जहर
  • 4/5

बृजेश लोडिंग वाहन चलाता था. मई और जून में करीब 2 महीने तक वह ससुराल में रहा. इस दौरान जाने कब छोटी बहन के साथ उसका प्यार हो गया. रिंकी के मुताबिक उसकी मां और उसे शक भी हुआ था. तब बृजेश ने उसकी मां के पूछने पर कहा था कि यह मेरी बहन जैसी है आप गलत मत समझो. उधर रिंकी की मां का कहना है कि हमने उसे बेटे की तरह माना, लेकिन उसने हमारे घर में ही बिगाड़ करा दिया.

लॉकडाउन में घर जमाई बना दामाद तो साली को ले भागा, पकड़े गए तो खाया जहर
  • 5/5

बताया गया है कि जुलाई में बृजेश पत्नी को लेकर भोपाल के गौतम नगर में अपने घर आ गया. यहां बात-बात पर पत्नी के साथ मारपीट करने लगा और उसे छोड़ने की धमकी भी देता था. कई दिनों से वे अपने मायके में रह रही है. 7 दिन पहले बृजेश ससुराल आया और साली को बाइक पर बैठाकर ले भागा.

नटेरन थाने में इसकी रिपोर्ट हुई. पुलिस ने 3 दिन पहले युवती को बृजेश के घर से बरामद कर थाने ले आई. थाने में दोनों पक्षों के पहुंचने के बाद राजीनामा हुआ जिसमें तय हुआ कि बृजेश अपनी पत्नी के साथ मारपीट नहीं करेगा और उसे अपने घर ले जाएगा. साली से भी कोई संबंध नहीं रखेगा. इसके बाद वह रिंकी को लेकर भोपाल चला गया. उसके 2 दिन बाद ही बच्चों को अपने साथ रख कर उसे नटेरन भगा दिया. शुक्रवार रिंकी की बहन ने अपने घर पर कोई जहरीला पदार्थ खा लिया.