scorecardresearch
 

ट्विटर हैकिंग मामले में मुश्किल में फंसी दिल्ली पुलिस

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी, कांग्रेस पार्टी और पत्रकार बरखा दत्त, रवीश कुमार के ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट हैकिंग मामले की जांच दिल्ली पुलिस की साइबर सेल के लिए काफी चुनौतीपूर्ण साबित हो रही है.

पांच देशों में मिला हैकर्स का एड्रेस पांच देशों में मिला हैकर्स का एड्रेस

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी, कांग्रेस पार्टी और पत्रकार बरखा दत्त, रवीश कुमार के ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट हैकिंग मामले की जांच दिल्ली पुलिस की साइबर सेल के लिए काफी चुनौतीपूर्ण साबित हो रही है. 'लीजंन' नाम के हैकर ने देश की सुरक्षा एंजेसियों की नाक में दम कर रखा है. साइब सेल ने इस मामले की जांच को आगे बढ़ते हुए पांच देशों को पत्र लिखकर यूजर का आईपी एड्रस लोकेट करने में मदद करने की अपील की है.

जानकारी के मुताबिक, दिल्ली पुलिस की तरफ से स्वीडन, अमेरिका, थाईलैंड, रोमानिया और कनाडा से जानकारी मांगी गई है. शुरूआती जांच में जो बात समाने आई है उससे साफ हुआ है कि हैकर ने टोर ब्राउजर का इस्तेमाल करते हुए कई प्रोक्सी सर्वर का इस्तेमाल करके इन ट्विटर अकाउंट्स को हैक किया है. दिल्ली पुलिस की जांच अब इन देशों से आने वाली जानकारी पर निर्भर करती है. क्योंकि हैकर किस देश में है, ये पता लगाना मुश्किल है.

हैकर ने विभिन्न देशों से संबंधित प्रोक्सी सर्वर का इसेमाल करते हुए ट्विटर अकाउंट हैक किए है. इस वजह से ये पता लगा पाना मुश्किल है कि वह किस देश में बैठा है. पुलिस प्रक्रिया के तहत पहले हैकर का लोकेशन ट्रेस करके आरोपी तक पहुंचना होता है. उससे कंप्युटर और डिजिटल उपकरण ज़ब्त करने होते है, जिसका इस्तेमाल हैकिंग में किया गया है. उन सभी जब्त उपकरणों को साइबर फोरेसिंक जांच के लिए भी भेजना होता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें