scorecardresearch
 

बॉयज लॉकर रूम मामले में साइबर सेल ने इंस्टग्राम को भेजा रिमांइडर नोटिस

ग्रुप के जो मेंबर्स मोबाइल बंद कर फरार चल रहे हैं, उन्हें भी जांच के लिए शामिल होने का निर्देश दिया गया है. इसके लिए बाकायदा नोटिस जारी किया गया है.

सांकेतिक फोटो सांकेतिक फोटो

  • फरार ग्रुप मेंबर्स को भी जारी किया गया नोटिस
  • ग्रुप के कई मेंबर्स ने चैटिंग न करने की बात कही

बॉयज लॉकर रूम मामले में साइबर सेल ने ग्रुप के मेंबर्स की डिटेल के लिए इंस्टाग्राम को रिमांडर नोटिस भेजा है. हालांकि इस बाबत इंस्टाग्राम की ओर से कुछ डिटेल मुहैया कराए गए हैं, लेकिन साइबर सेल की मानें तो डिटेल जांच के हिसाब से नाकाफी है. क्योंकि ग्रुप के ज्यादातर मेंबर्स ने चैटिंग न करने की बात कही है.

सूत्रों के मुताबिक, ग्रुप के जो मेंबर्स मोबाइल बंद कर फरार चल रहे हैं, उन्हें भी जांच के लिए शामिल होने का निर्देश दिया गया है. इसके लिए बाकायदा नोटिस जारी किया गया है.

क्यों मांगी इंस्टाग्राम से डिटेल?

साइबर सेल की टीम इस मामले में किसी को भी गिरफ्तार करने से पहले उससे संबंधित सबूत एकत्र करने में जुटी है. इसके लिए जहां ग्रुप के मेंबर्स से पूछताछ करने और उनका आपस में आमना-सामना कराकर इनके बयानों को क्रॉसचेक करने का काम चल रहा है,.

वहीं तकनीकी आधार पर लोकेशन से लेकर सोशल मीडिया पर अपलोड किए गए मैटेरियल की जांच की जा रही है. इसके लिए ही इंस्टाग्राम से डिटेल मांगी गई है, लेकिन पूरा जवाब नहीं आने पर पुलिस की तरफ से इंस्टाग्राम को रिमाइंडर नोटिस भेजा गया है.

साइबर सेल की मानें तो बॉयज लॉकर रूम ग्रुप से जुड़े कुल 27 सदस्यों में से कुछ ने कहा कि उन्होंने ग्रुप में कोई अभद्र और अश्लील टिप्पणी नहीं की है. वो चैट का हिस्सा भी नहीं रहे. लिहाजा उनको माफ कर दिया जाए. हालांकि साइबर सेल इनकी भूमिका की बारीकी से जांच कर रही है और यह पता लगाने की कवायद कर रही है कि क्या वाकई में ये जो बोल रहे हैं, वो सच है?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें