scorecardresearch
 

लुधियाना ब्लास्ट में पाकिस्तानी ISI का हो सकता है हाथ, पंजाब डीजीपी ने किए बड़े खुलासे

लुधियाना कोर्ट परिसर में हुए ब्लास्ट में कई अहम इनपुट सामने आ गए हैं. दो आरोपी गिरफ्तार हैं, एक की मौत हो गई है और कई सारे एंगल देखने को मिल रहे हैं. अब पंजाब डीजीपी सिद्धार्थ चट्टोपाध्याय ने इस पूरे मामले के तार पाकिस्तानी ISI से भी जोड़ दिए हैं.

X
लुधियाना ब्लास्ट में पाकिस्तानी ISI का हो सकता है हाथ लुधियाना ब्लास्ट में पाकिस्तानी ISI का हो सकता है हाथ
स्टोरी हाइलाइट्स
  • लुधियाना ब्लास्ट में पाकिस्तानी ISI का हो सकता है हाथ
  • खालिस्तानी कनेक्शन भी आए सामने
  • दो आरोपियों को सात दिन की पुलिस रिमांड

लुधियाना कोर्ट परिसर में हुए ब्लास्ट में कई अहम इनपुट सामने आ गए हैं. दो आरोपी गिरफ्तार हैं, एक की मौत हो गई है और कई सारे एंगल देखने को मिल रहे हैं. अब पंजाब डीजीपी सिद्धार्थ चट्टोपाध्याय ने इस पूरे मामले के तार पाकिस्तानी ISI से भी जोड़ दिए हैं.

आजतक से बात करते हुए डीजीपी ने कहा है कि इस पूरी घटना के पीछे पाकिस्तानी ISI का हाथ है. लेकिन हमारी टीम हर एंगल से जांच कर रही है. अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए उन्होंने बताया कि पंजाब में ये पहली बार देखने को मिल रहा है जब  नॉरकोटिक्स, ड्रग्स माफिया और खालिस्तानी एलिमेंट साथ आ गए हैं. ऐसा कर पंजाब में अशांति फैलाने की साजिश है. राज्य को आर्थिक और समाजिक तौर पर अस्थिर करने की प्लानिंग है.

अब ये साजिश जरूर बड़ी है लेकिन डीजीपी ने इस बात पर खुशी जाहिर की कि उनकी टीम ने 24 घंटे के अंदर इस बड़े मामले को सुलझा दिया. आरोपी भी गिरफ्तार हो गए, मकसद भी काफी हद तक स्पष्ट हो गया है. बातचीत के दौरान पंजाब डीजीपी ने मृत आरोपी गगनदीप को लेकर भी बड़े खुलासे किए हैं. उनकी माने तो गगनदीप पुलिस फोर्स के साथ काम कर चुका था. ऐसे में उसे पूरी समझ थी कि प्रशासन और सुरक्षा प्वाइंट्स को कैसे चकमा दिया जा सकता है. 

डीजीपी ने ये भी बताया है कि आरोपी गगनदीप ने IED अपने पेट से बांध रखा था, उस वजह से किसी को शक नहीं हुआ और वो आसानी से कोर्ट परिसर में एंट्री कर गया. आगे के घटनाक्रम के अनुसार गगनदीप वॉशरूम गया था. वहां पर उसे वो IED प्लांट करना था. सूत्रों के मुताबिक, विस्फोट के वक्त गगनदीप का मोबाइल फोन फट गया. उसके पास एक डोंगल था जिसके जरिए वह इंटरनेट का इस्तेमाल कर रहा था. एनआईए और पंजाब पुलिस को शक है कि वह किसी से बम असेंबल करने और उसे एक्टिवेट करने की ऑनलाइन जानकारी ले रहा था.लेकिन तभी बम फट गया और उसे अपनी जान से हाथ धोना पड़ा. इस हादसे में कुल दो लोगों ने अपनी जान गंवाई है पांच घायल हुए.  

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें