scorecardresearch
 

UJC ने ली पठानकोट हमले की जिम्मेदारी, जानिए कौन है इसका सरगना

यूजेसी में हरकत-उल-अंसार, हिज्ब-उल-मुजाहिदीन, जमीयत-उल-मुजाहिदीन, अल-जिहाद, अल बर्क, अब बदर, इख्वान-उल-मुसलमीन और तहरीक-उल-मुजाहिदीन जैसे आतंकी संगठन शामिल हैं. इसका सरगना सैय्यद सलाहुद्दीन है, जो पीओके का रहने वाला है.

UJC का सरगना सैय्यद सलाहुद्दीन UJC का सरगना सैय्यद सलाहुद्दीन

पंजाब के पठानकोट में हुए आतंकवादी हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन यूनाइटेड जिहाद काउंसिल (यूजेसी) ने ली है. पाकिस्‍तान स्थित इस आतंकी संगठन में करीब 16 आतंकी समूह शामिल हैं. कुछ दिन पहले ही यूजेसी ने कश्‍मीर में ग्‍लोबल जिहाद छेड़ने की अपील की थी.

जानकारी मुताबिक, यूजेसी में हरकत-उल-अंसार, हिज्ब-उल-मुजाहिदीन, जमीयत-उल-मुजाहिदीन, अल-जिहाद, अल बर्क, अब बदर, इख्वान-उल-मुसलमीन और तहरीक-उल-मुजाहिदीन जैसे आतंकी संगठन शामिल हैं. इसका सरगना सैय्यद सलाहुद्दीन है, जो पीओके का रहने वाला है.

पिछले साल सलाहुद्दीन ने कश्मीर को गृह युद्ध का शिकार देश बताते हुए कहा था कि जिहादियों को कश्मीर में दखल देना चाहिए. अल कायदा, तालिबान या कोई भी संगठन या देश दमन के शिकार कश्मीरियों की मदद के लिए आगे आता है, तो इसका स्वागत किया जाएगा.

फौज पर लगाया था आरोप
भारतीय सुरक्षा बलों पर आतंक का राज स्थापित करने का आरोप लगाते हुए उसने कहा था, '6000 बेनामी कब्रें मिलने, रोज होने वाली हत्याओं, महिलाओं के शोषण जैसी घटनाओं से यह बात साबित होती है. हमें इस बारे में अंतरराष्‍ट्रीय मंच पर कुछ कहने की जरूरत नहीं है.'

कौन है सैय्यद सलाहुद्दीन
सैय्यद सलाहुद्दीन आतंकी संगठन हिज्ब-उल-मुजाहिदीन का सरगना है. यह संगठन कश्मीर में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देता है. भारत में बड़े पैमाने पर आतंकी हमलों को अंजाम देने के लिए नवंबर, 1990 में यूजेसी का गठन किया गया था. इसका हेटक्वार्टर मुजफ्फराबाद (पीओके) में है.

पाकिस्तान करता है मदद
सलाहुद्दीन को यूजेसी का चेयरमैन बनाया गया. जून, 2012 में दिए एक इंटरव्यू में उसने दावा किया था कि कश्मीर की लड़ाई के लिए पाकिस्तान उसके संगठन की मदद करता है. यदि पाकिस्तान ने मदद करना बंद कर दिया, तो वह वहां भी आतंकी वारदातों को अंजाम देगा.

'जुर्म' की ताजा खबरों के लिए यहां क्लिक करें

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें