scorecardresearch
 

पापलोकः ढोंगी बाबा श‍िष्या समेत गिरफ्तार, मसाज के नाम पर करता था 'गंदी बात'

हमारे देश में ऐसा शायद ही कोई महीना गुज़रता हो, जब कोई ना कोई फ़र्जी बाबा बेनक़ाब ना हो. लेकिन लोग हैं कि इतने ढपोरशंखी बाबाओं की कहानियां सामने आने के बावजूद ऐसे बाबाओं पर आंख मूंद कर ऐतबार करने से पीछे नहीं हटते. नया ढोंगी बाबा गुजरात से सामने आया है.

ढोंगी बाबा प्रशांत अब अपनी चेली के साथ सलाखों के पीछे पहुंच गया है ढोंगी बाबा प्रशांत अब अपनी चेली के साथ सलाखों के पीछे पहुंच गया है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • वडोदरा में चल रहा था ढोंगी बाबा का पापलोक
  • शिष्याओं से बेडरूम में कराता था विशेष मसाज
  • लड़कियों ने पुलिस को सुनाई आपबीती

आस्था और अंधभक्ति के बीच बड़ी बारीक सी लकीर होती है. इसी बारीकी का फायदा ढोंगी बाबा उठाते हैं. देश के कोने कोने में ऐसे ढोंगी बाबा भरे पड़े हैं. पिछले कुछ सालों में ऐसे बाबा सलाखों के पीछे भी पहुंचे हैं. लेकिन ऐसे बाबाओं की तादाद फिर भी कम नहीं हो रही है. ऐसे ही ढोंगी बाबाओं की जमात में एक नया नाम शामिल हो गया है बाबा प्रशांत उपाध्याय. ये बाबा वडोदरा से आता है. इस बाबा के शौक हैरान करने वाले हैं. ये भक्तों से मसाज के साथ-साथ ना जाने क्या-क्या कराते हैं. लेकिन भक्तों की शिकायत ने ही बाबा को पुलिस के शिकंजे में पहुंचा दिया.

इस बाबा का जलवा एमपी से गुजरात तक है. सोने का सिंघासन. चांदी का जूता. काला चश्मा. 56 भोग. संजू बाबा का स्टाइल. रॉकी जैसी बाइक. कुल मिलाकर अंदाज़ ऐसा कि जो देख ले देखता रह जाए. झांसे में आ जाए. उसे खूबसूरत चेहरों के बीच में रहने का शौक है. रंगीन मिज़ाजी ऐसी मानों बॉलीवुड का कोई सितारा हो. उसे देखकर कोई भी धोखा खा जाए. 

वो कोई आशिक आवारा नहीं बल्कि बाबा बावंरिया है. वो भी छोटा मोटा नहीं. उसके भक्तों की तादाद लाखों में है. बाबा आस्था का कारोबार करता है. अलमुख्तसर, बाबा वही हैं जो आप समझ रहे हैं. मगर उसकी कहानी थोड़ी दिलचस्प है. जितना सुनते जाएंगे. उतना गहरा उतरते जाएंगे. बाबा का फिल्मी लुक तो सबने देख लिया है. अब आइये एक नज़र बाबा के देवी अवतार पर भी डालिए. चौंकिए नहीं बाबा देव नहीं बल्की देवी के अवतार ही हैं. कम से कम उसका ऐसा ही कहना है.

हमारे देश में ऐसा शायद ही कोई महीना गुज़रता हो, जब कोई ना कोई फ़र्जी बाबा बेनक़ाब ना हो. लेकिन लोग हैं कि इतने ढपोरशंखी बाबाओं की कहानियां सामने आने के बावजूद ऐसे बाबाओं पर आंख मूंद कर ऐतबार करने से पीछे नहीं हटते. 

अब नया मामला गुजरात के वडोदरा से सामने आया है. जहां ठीक राम रहीम और आसाराम की तर्ज़ पर अपना पापालोक चलाने वाले एक ऐसे बाबा की पोल खुली है, जो लड़कियों से मसाज के बहाने उन्हें अपने हरम तक लेकर आता था और फिर उनसे ज़्यादती करता था. और इससे भी ज़्यादा हैरानी का बात है कि इस काम में इस बाबा का साथ खुद उसकी चेली बन कर रहने वाली कुछ लड़कियां ही देती थीं. 

देखें: आजतक LIVE TV  

पिछले दिनों वडोदरा के एक थाने में एक लड़की ने खुद को देवी का अवतार बताने वाले प्रशांत उपाध्याय नामक एक बाबा के खिलाफ़ शिकायत दी और कहा कि ये बाबा धर्म और आध्यात्म की आड़ लेकर पिछले कई सालों से उसके साथ रेप कर चुका है. लेकिन उसका रसूख कुछ ऐसा है कि कोई भी बाबा के खिलाफ़ आसानी से मुंह खोलने की हिम्मत नहीं जुटा पाता. वो तो जब कुछ और लड़कियों ने इस बाबा की करतूतों के खिलाफ़ शिकायत की और उसे इसका पता चला. फिर उस लड़की ने भी पुलिस में रिपोर्ट लिखवाने की हिम्मत जुटा ही ली.

प्रशांत उपाध्याय पर एक नाबालिग लड़की ने बार-बार बलात्कार का आरोप लगाया और वो सलाखों के पीछे पहुंच गया. वडोदरा के एसीपी अल्पेश राजगोर के मुताबिक पीड़ित लड़की का कहना था कि खुद वो और उसका परिवार प्रशांत से काफी प्रभावित था. इसी का फायदा उठाकर प्रशांत ने साल 2013 से 2017 तक उसके साथ कई बार रेप किया. लेकिन बाबा का रसूख ऐसा था कि वो जुबान खोलने की हिम्मत नहीं कर सकी. लेकिन जब दूसरी लड़कियों ने केस दर्ज करवाया तो उसकी भी हिम्मत खुल गई.

पीड़ित की शिकायत पर एक्शन लेते हुए पुलिस ने बाबा को तो गिरफ्तार कर ही लिया. साथ ही उसकी साथी दिशा जॉन उर्फ दिशा सचदेव को भी सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है. पीड़ित लड़की ने अपनी शिकायत में बाबा साथी दीक्षा और उन्नति जोशी का भी नाम लिया है. लेकिन ये दोनों फिलहाल फरार हैं. आरोप है कि ये कुकर्मों में बाबा का साथ देती थीं. वैसे खुद को देवी का अवतार और बगलामुखी मंदिर का संत बताने वाले इस पापी बाबा का जेल और पुलिस का नाता कोई नया नहीं है. वो इससे पहले भी गिरफ्तार हो चुका है. 

इसी साल फरवरी में प्रशांत उपाध्याय पहली बार पुलिस के हत्थे चढ़ा था. उस पर तंत्र साधना के नाम पर लाखों रुपये ठगने का आरोप लगा था. लेकिन गिरफ्तार होते ही इसके गुनाहों के ऐसे राज़ सामने आने लगे कि सबके पैरों तले से ज़मीन खिसक गई. तब उसके आश्रम में रहने वाली साधिकाओं ने बलात्कार का आरोप लगाया था. पुलिस उसे गिरफ्तार करके जांच कर ही रही थी कि उसे ज़मानत मिल गई. जेल से बाहर आने के बाद उसने सुसाइड की कोशिश भी की थी. बताया जाता है कि ये भी उसका नाटक ही था. सुसाइड का नाटक करके वो विक्टिम कार्ड खेलने की कोशिश कर रहा था.

वैसे गुनाहों में बाबा का साथ देने वाली चेलियों में एक दिशा जॉन उर्फ दिशा सचदेव पुलिस के हत्थे चढ़ चुकी है. और कानून के डर से बाबा के पापलोक के रहस्य से पर्दा भी उठाने लगी है. सूत्रों के मुताबिक दिशा ने पुलिस को अब तक जो जानकारियां दी हैं. उनके मुताबिक वो लड़कियों को तंत्र साधना के नाम पर प्रशांत के कमरे में भेजती थी. प्रशांत के कहने पर ही वो लड़कियों को उसके बेडरूम में भेजती थी. प्रशांत उपाध्याय अपने आश्रम की लड़कियों से मसाज भी करवाता था. वो लड़कियों को अपने रूम में बुलाता था और उनके वीडियो भी बनाता था.

अब बाबा कानून की गिरफ्त में है. उसके अय्याश लोक में पुलिस की छानबीन जारी है. उसकी एक चेली भी सलाखों के पीछे है. लेकिन दो चेलियां फरार हैं. बताया जा रहा है कि ये दोनों फिलहाल दुबई में हैं. पुलिस ने उन दोनों की गिरफ्तारी की कोशिशें भी तेज़ कर दी हैं. माना जा रहा है कि जब ये पुलिस के शिकंजे में आएंगी. तब कुछ और नए राज़ सामने आएंगे. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें