scorecardresearch
 

जीबी रोड केस: दिल्ली पुलिस ने दायर की 3895 पेज की चार्ज शीट

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने जीबी रोड पर पिछले साल पकड़े गए सेक्स रैकेट के एक बड़े सिंडिकेट के खिलाफ तीस हजारी कोर्ट में चार्ज शीट दायर की है. ये चार्जशीट 3895 पेज की है, जिसको तैयार करने में पूरे 6 महीने लगे हैं. इसमें आरोपी दंपत्ति की करीब 18 प्रॉपर्टीज को संलिप्त की गया है, जिसकी कीमत करीब 246 करोड़ आंकी जा रही है.

आरोपी सायरा बानो और अफाक हुसैन आरोपी सायरा बानो और अफाक हुसैन

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने जीबी रोड पर पिछले साल पकड़े गए सेक्स रैकेट के एक बड़े सिंडिकेट के खिलाफ तीस हजारी कोर्ट में चार्ज शीट दायर की है. ये चार्जशीट 3895 पेज की है, जिसको तैयार करने में पूरे 6 महीने लगे हैं. इसमें आरोपी दंपत्ति की करीब 18 प्रॉपर्टीज को संलिप्त की गया है, जिसकी कीमत करीब 246 करोड़ आंकी जा रही है.

जानकारी के मुताबिक, आरोपी दंपत्ति की सारी प्रॉपर्टी सेक्स रैकेट के धंधे से तैयार की गई थी. पुलिस का कहना है कि इस केस में अभी जांच चल रही है. कुछ और आरोपियों की पहचान की जा चुकी है, जिनकी जल्द गिरफ्तारी हो सकती है. इसके बाद पुलिस सप्लीमेंट्री चार्जशीट दायर कर सकती है. ह्यूमन ट्रैफिकिंग के मामले में ये पहला ऐसा मकोका का केस था.

बताते चलें कि दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने जीबी रोड में सेक्स रैकेट चलाने वाले एक बड़े सिंडिकेट का पर्दाफाश किया था. जीबी रोड में 6 कोठे चलाने वाले अफाक हुसैन और उसकी पत्नी सायरा बानो समेत 10 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया था. इनके 6 कोठों में 40 कमरे हैं, जिनमें करीब 250 लड़कियां थी. सभी आरोपी अभी रिमांड पर हैं.

क्राइम ब्रांच के मुताबिक, आफाक की हर रोज़ की कमाई 10 लाख रुपये से ऊपर थी. उस वक्त इसके पास 100 करोड़ से ऊपर की संपत्ति की जानकारी मिली थी. उनमें शाहीन बाग में घर, जैतपुर में फार्महाउस, बंगलुरु में करोड़ों के संपति का पता चला था. इसके कई बैंक अकाउंट हैं, जिनमें 6 करोड़ से ज्यादा की नगदी मिली थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें