scorecardresearch
 

यादव सिंह मामले में CBI ने की पहली गिरफ्तारी

सीबीआई सूत्रों के मुताबिक, रमेंद्र सीधे यादव सिंह को रिपोर्ट करता था. वह एक डायरी मेंटेन करता था, जिसमें ठेकेदारों और बिल्डरों से मिलने वाली रिश्वत और उनके बंटवारे के बारे में ब्यौरा दर्ज होता था. सीबीआई उसे चार दिनों तक अपने हिरासत में रखकर पूछताछ करेगी.

नोएडा अथॉरिटी में चीफ इंजीनियर रहे यादव सिंह नोएडा अथॉरिटी में चीफ इंजीनियर रहे यादव सिंह

नोएडा अथॉरिटी में चीफ इंजीनियर रहे यादव सिंह मामले की जांच कर रही सीबीआई ने उनसे जुड़े असिस्टेंट प्रोजेक्ट इंजीनियर रमेंद्र को गिरफ्तार कर लिया है. इस बहुचर्चित केस में यह पहली गिरफ्तारी मानी जा रही है. बताया जा रहा है कि रमेंद्र, यादव सिंह के साथ भ्रष्टाचार में संलिप्त था.

सीबीआई सूत्रों के मुताबिक, रमेंद्र सीधे यादव सिंह को रिपोर्ट करता था. वह एक डायरी मेंटेन करता था, जिसमें ठेकेदारों और बिल्डरों से मिलने वाली रिश्वत और उनके बंटवारे के बारे में ब्यौरा दर्ज होता था. सीबीआई उसे चार दिनों तक अपने हिरासत में रखकर पूछताछ करेगी.

बताते चलें कि सीबीआई ने यादव सिंह के खिलाफ भ्रष्टाचार, आपराधिक साजिश, धेखाधड़ी, फर्जीवाड़ा और कानून के उल्लंघन के संबंध में केस दर्ज किया था. उनके वहां हुई छापेमारी में अकूत संपति का खुलासा हुआ है. इसके साथ ही उनके राजनीतिक रसूख सामने आए थे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें