scorecardresearch
 

पाखंड के संत की हुई हवा गुल

ज्यादा का वक्त बीत चुका है लेकिन आसाराम बापू की मुसीबतें खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं. लोगों को उनकी मुश्किलों से निजात दिलाने का दावा करने वाले आसाराम आज खुद अपनी मुसीबतों के जंजाल में उलझ कर रह गए हैं और जंजाल भी ऐसा की अब ना तो कोई साधना काम में आ रही है और ना ही कोई तंत्र-मत्र. भवसागर में अपने भक्तों की नैया को पार लगाने वाले आसाराम आज खुद कोर्ट की तारीखों के भंवर में उलझ कर रहे गए हैं.

X
12:40

ज्यादा का वक्त बीत चुका है लेकिन आसाराम बापू की मुसीबतें खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं. लोगों को उनकी मुश्किलों से निजात दिलाने का दावा करने वाले आसाराम आज खुद अपनी मुसीबतों के जंजाल में उलझ कर रह गए हैं और जंजाल भी ऐसा की अब ना तो कोई साधना काम में आ रही है और ना ही कोई तंत्र-मत्र. भवसागर में अपने भक्तों की नैया को पार लगाने वाले आसाराम आज खुद कोर्ट की तारीखों के भंवर में उलझ कर रहे गए हैं.

आसाराम का पूरा कुटुंब पाप के जहर से तिलमिला रहा है. छटपटा रहा है. अब ना जादू टोना चल रहा है. ना तंत्र मंत्र कि साधना. पाखंड के भगवान की हवा गुल हो गई है.

आसाराम ने अपने अतीत में बदनामी, बेशरमी और कुकर्मों के जो कांटे बोए थे, अब वो खून चूस रहे हैं. दिन में, रात में, जेल की बदलती करवटों में, पूरी पूरी रात खुली आंखों की खिड़कियों में, बार-बार खारिज होती जमानत की अर्जी में, अहमदाबाद पुलिस की ट्रांजिट रिमांड में. आसाराम ने एकांतवास का जो बैकुंठ बनाया था वो एकांतवास अब आसाराम के कुनबे के लिए अज्ञातवास बन गया है. पाखंड का टीका लगाकर आसाराम पूरी कुटुंब ना जाने कौन से बिल में छुप गया है.

बाबा का कुनबा फरार है और पापों से पर्दा उघड़ता ही जा रहा है. कभी बलात्कार और यौन शोषण के आरोपों में तो कभी पाखंड की कुटिया के बड़े बड़े खुलासों से. आसाराम एंड फैमिली पर आरोप लगाने वाली लड़कियों की संख्या बढ़ती ही जा रही है. हर रोज कोई ना कोई लड़की सनसनीखेज आरोप लेकर सामने आ रही है. तो आसाराम के आश्रमों से घिनौनी सच्चाई सामने आ रही है. कभी बेशरम बीमारी बनकर तो अब बेशरम बूटी बनकर.

आसाराम के आश्रम से निकला रहस्य पहले आसाराम की ध्यान कुटिया का राज बाहर आया तो कोहराम मच गया. लेकिन अब उनके आश्रम से जो रहस्य निकला है उसे सुन कर आप हैरान रह जाएंगे. फूड एंड ड्रग विभाग के एक छापे के दौरान आसाराम के आश्रम से ऐसी दवाओं का भंडार मिला है जो सेक्स वर्धक मानी जाती हैं. फूड एंड ड्रग विभाग का ये भी कहना है कि आसाराम के आश्रम में पकड़ी गई दवाओं में ऐसे रसायन का इस्तेमाल किया जाता है, जिसकी इजाजत उन्हें नहीं दी गई है.

दो बहनों के रेप और यौन शोषण के इल्जाम के बाद सूरत की पुलिस आसाराम के आश्रमों रेड मार रही है. पुलिस की छापेमारी में भले ही आसाराम का कुनबा अभी तक ना मिला हो लेकिन सूरत के आश्रम में फूड एंड ड्रग विभाग को बेशरम बूटी मिली है.

दुनियाभर में घूम घूमकर भगवत भक्ति की बातें करने वाले आसाराम पर पहले बेरशम बीमारी यानी पीडोफिलिया होने का इल्जाम लगा. वो पीडोफिलियो जिसका शिकार होने के बाद इंसान को बच्चों से जिस्मानी रिश्ते बनाना अच्छा लगता है और अब आसाराम के आश्रम से बेशरम बूटी का रहस्य खुला है.

आसाराम के आश्रम में ऐसी दवाओं का भंडार था. जो सेक्स वर्धक मानी जाती हैं. आसाराम के आश्रम से जो बेशरम बूटी मिली है, उसका नाम है सप्त धातु वर्धक बूटी. फूड एंड ड्रग विभाग का ये भी कहना है कि आसाराम के आश्रम में पकड़ी गई दवाओं में ऐसे रसायन का इस्तेमाल किया जाता है, जिसकी इजाजत उन्हें नहीं दी गई है.

आसाराम के सूरत में जहांगीरपुर आश्रम से छापेमारी में, ना सिर्फ शक्ति वर्धक दवाएं मिली हैं बल्कि 5 दूसरी ऐसी दवाएं भी मिली हैं जिनके कैमिकल पर फूड एंड ड्रग विभाग को शक है और उन दवाओं के नाम हैं- बाण बूटी, त्रिफला टैबलेट, आंवला चूर्ण, कफ सिरप और रसायन टैबलेट.

फूड एंड ड्रग विभाग ने आसाराम के आश्रम से मिली संदिग्ध और सेक्स वर्धक दवाओं के सैंपल जांच के लिए भेज दिए हैं. यानी बाबा के लिए शक्ति वर्धक बूटी आफत वर्धक बूटी बन सकती है.

पूरे परिवार पर आरोप
आसाराम तो आसाराम उनका पूरा परिवार लड़कियों के यौन शोषण के आरोपों में घिरा हुआ है. क्या बेटा नारायण साईं, क्या बेटी भारती और क्या पत्नी लक्ष्मी. सभी पर संगीन आरोप लगे हैं. लेकिन हैरानी की बात ये है कि दुनिया को सत्य और अहिंसा का पाठ पढ़ाने वाला आसाराम का पूरा परिवार, खुद पर आरोप लगने के बाद से ही गायब है और पुलिस उन सभी की तलाश में खाक छान रही है.

आसाराम के परिवार का सच
नारायण साईं ने आसाराम की बेगुनाही की बड़ी दलीलें दीं. उनको जंल की सलाखों से बाहर लाने की हर मुमकिन कोशिश की. लेकिन नारायण अपनी इस कोशिश में कामयाब नहीं हो पाए. अव्वल खुद उन पर ही बलात्कार का संगीन आरोप लग गया और जैसे ही पुलिस ने उनके खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया वो भी फरार हो गए.

आसाराम की बेटी भारती आसाराम और नारायण साईं पर बलात्कार के आरोपों में घिरने और लड़कियों को यौन शोषण मामले में अपना नाम आने के बाद भारती खुद कहीं गायब हो गई है.

सिर्फ बेटा-बेटी ही नहीं बल्कि आसाराम की पत्नी लक्ष्मी भी गायब हैं. उन पर भी आसाराम की रासलीलाओं में साथ देने का आरोप है...आसाराम की पत्नी लक्ष्मी पर आरोप है कि वो आसाराम तक लड़कियां पहुंचाने का इंतजाम करती थीं.

ना सिर्फ करतूत को अंजाम देने के तरीके, बल्कि इल्जाम लगने के बाद कानून से बचने के हथकंडा भी नारायण साईं ने वही चुना है, जो उनके पिता आसाराम ने चुना था...लेकिन लगता है कि क़ानून से बचने के लिए आसाराम और उनका पूरा परिवार अब खुद ही अपनी बिछाई बिसात में बुरी तरह घिर चुका है.

आसाराम को अभी कुछ दिन और जेल में ही बिताने होंगे. जोधपुर कोर्ट ने गुजरात पुलिस को आसाराम की ट्रांजिट रिमांड दे दी है. यानी अब गुजरात पुलिस आसाराम को अहमदाबाद ले जाकर उनसे पूछताछ करेगी और आसाराम को 25 अक्तूबर तक जेल में रहना पडेगा.

आसाराम के कुनबे की गिरफ्तारी का काउंट डाउन शुरू हो चुका है. जोधपुर जिला अदालत ने गुजरात पुलिस को आसाराम की ट्रांजिट रिमांड दे दी है.

अब एक तरफ नारायण साईं अग्रिम जमानत की अर्जी भेज रहे हैं तो दूसरी तरफ आसाराम पीड़ित लड़की के वकील के सामने गिड़गिड़ा रहे हैं. शुक्रवार को जोधपुर कोर्ट में जमानत अर्जी खारिज होने के बाद आसाराम सीधे पीड़ित लड़की के वकील के पास पहुंच गए. और हाथ जोड़कर बोले कि.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें