scorecardresearch
 
बड़े अपराध

10 महिलाओं से शादी के बाद भी नहीं हुई संतान, फिर ये फैसला बना शख्स की हत्या की वजह

10 पत्नियों से शादी के बाद भी नहीं हुई संतान, लेकिन उसकी एक इच्छा ने ले ली उसकी जान.
  • 1/5

यूपी के बरेली से सनसनीखेज मामला सामने आया है जहां दस महिलाओं से शादी करने के बाद भी जब शख्स की कोई औलाद नहीं हुई तो उसने सिर्फ एक ही इच्छा जाहिर की. उसने अपनी करोड़ों की जमीन उसकी देखभाल करने वाले  भतीजे के नाम करने की इच्छा जाहिर की थी. लेकिन यही इच्छा उसकी हत्या का कारण बन गई. हत्यारा कोई और नहीं बल्कि उसकी भाभी ही निकली. बरेली में भाभी ने करोड़ों की जमीन के लालच में सगे देवर की सुपारी देकर हत्या करा दी. पुलिस ने हत्या का खुलासा करते हुए आरोपी भाभी सहित चार लोगों गिरफ्तार कर मामले का खुलासा किया है.

 ये मामला बरेली के भोजीपुरा थाना क्षेत्र का है.
  • 2/5

दरअसल, ये मामला बरेली के भोजीपुरा थाना क्षेत्र का है. जहां 55 वर्षीय जागन लाल की 20 जनवरी को गला दबाकर हत्या कर दी गई थी. जागन लाल के पास 14 बीघा जमीन थी और वह गांव में ही रहता था. जागन लाल के घरवालों का कहना है कि जागन अब तक 10 महिलाओं से शादी कर चुका था, पर किसी से कोई संतान नहीं हुई. 

जागन लाल की कई पत्नियों की मौत हो चुकी है तो कुछ उसे छोड़ कर चली गईं.
  • 3/5

घरवालों ने बताया कि जागन लाल की कई पत्नियों की मौत हो चुकी है तो कुछ उसे छोड़ कर चली गईं. इस समय भी 55 वर्षीय जागन लाल अपनी दो पत्नियों के साथ गांव में ही रहता था. जागन लाल की कोई संतान न होने के कारण उसकी करोड़ों की जमीन पर दूसरों की नजर थी. 20 जनवरी की रात के अंधेरे में जागन लाल की गला दबाकर हत्या कर दी गई. घटना की जानकारी के बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जब जांच शुरू की तो हत्या के पीछे की कहानी सुनकर पुलिस भी हैरान रह गई.

 भाभी ने 3 करोड़ की जमीन के लालच में सुपारी देकर करवाई थी.
  • 4/5

पुलिस के मुताबिक, हत्या किसी और ने नहीं बल्कि जगन की भाभी ने जमीन के लालच में सुपारी देकर करवाई थी. एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने बताया कि हत्या के खुलासे के लिए भोजीपुरा इंस्पेक्टर मनोज कुमार त्यागी को लगाया गया था. एसएसपी ने बताया कि मृतक जागन लाल की अपनी कोई संतान नहीं थी और अपनी देखभाल के लिए उसने अपने परिवार के एक भतीजे को अपने साथ रख लिया था. 

पुलिस कर रही मामले की जांच.
  • 5/5

पुलिस का कहना है कि जागन लाल अपनी सारी प्रॉपर्टी की वसीहत उसी भतीजे के नाम कराने की सोच रहा था. जैसे ही यह बात उसकी भाभी मुन्नी देवी को पता चली तो उसने देवर की हत्या की साजिश रची ताकि देवर जब नहीं रहेगा तो उसकी सारी जमीन उसे मिल जाएगी. लेकिन पुलिस ने आखिरकार हत्या का खुलासा करते हुए देवसिंह, प्रह्लाद, दर्शन सिंह और मुन्नी देवी को गिरफ्तार कर लिया और मामले की जांच शुरू कर दी.