scorecardresearch
 

दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर हजारों मजदूर, मौके का जायजा लेने पहुंचे सिसोदिया

दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर हजारों मजदूर, मौके का जायजा लेने पहुंचे सिसोदिया

लॉकडाउन के बावजूद दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर हजारों मजदूर मौजूद हैं. दरअसल सभी अपने घर लौटना चाहते है. बॉर्डर सील होने के कारण सभी को हाईवे पर ही रोक दिया गया. इस स्थिति का दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मुआयना किया. मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि मजदूरों के लिए खाने और शेल्टर के इंतजाम किए गए हैं. अगर नाइट शेल्टर की कमी पड़ती है तो हम स्कूलों को नाइट शेल्टर में तब्दील कर रहे हैं. देखें वीडियो.

Despite prohibitory orders in place across the country, a huge gathering of migrant workers is trying to return to their native villages in Uttar Pradesh. Meanwhile, Delhi Deputy Chief Minister Manish Sisodia visited Ghazipur on Saturday morning and met migrant labourers. He said government has started converting schools in Ghazipur into night shelters to stop the mass exodus of migrant labour affected by the coronavirus lockdown. Watch video.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें