scorecardresearch
 

किस कंपनी की कोरोना वैक्सीन की क्या है कीमत? सरकार ने बताया

भारत ने फिलहाल कोरोना की दो वैक्सीन को हरी झंडी दिखाई है. इसके अलावा रूस और चीन की वैक्सीन के भी ऑर्डर दिए गए हैं, जिसकी कीमत सरकार ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में दी. 

सरकार ने दी कोरोना की वैक्सीन के कीमत की जानकारी (फाइल फोटो) सरकार ने दी कोरोना की वैक्सीन के कीमत की जानकारी (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • वैक्सीन को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय की पीसी
  • सरकार ने बताई वैक्सीन की कीमत
  • भारत ने दो वैक्सीन को दिखाई हरी झंडी

कोरोना वायरस का कहर अब पहले के मुकाबले कम होता जा रहा है. इसके रफ्तार पर लगाम तो लगी है साथ ही इस महामारी पर वार करने के लिए दुनिया के कई देशों ने कोरोना की वैक्सीन बनाई है. भारत ने फिलहाल कोरोना की दो वैक्सीन को हरी झंडी दिखाई है. इसके अलावा रूस और चीन की वैक्सीन के भी ऑर्डर दिए गए हैं, जिसकी कीमत सरकार ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में दी. 

सरकार की ओर से बताया गया कि सीरम इंस्टीट्यूट से भारत सरकार ने वैक्सीन के 110 लाख डोज का फिलहाल ऑर्डर दिया है. इनकी कीमत 200 रुपये प्रति डोज (टैक्स छोड़कर) है. वहीं, भारत बायोटेक की कोवैक्सीन के 38 लाख डोज का ऑर्डर दिया गया है. इनमें से 12 लाख डोज भारत सरकार को मुफ्त दी जाएंगी. ऐसे में वैक्सीन की औसत कीमत 206 रुपये प्रति डोज (टैक्स छोड़कर) होगी.

देखें- आजतक LIVE TV 

स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने कहा कि फाइजर और बायोएनटेक की वैक्सीन की एक खुराक की कीमत 1431 रुपये है. मॉडर्ना की वैक्सीन की एक खुराक की संभावित कीमत 2348 से 2715 रुपये तक रहेगी. चीन की वैक्सीन की एक खुराक के लिए 5600 रुपये से भी अधिक दाम चुकाने होंगे. जबकि भारत में कोविशील्ड वैक्सीन की कीमत 200 रुपये प्रति खुराक रखी गई है. बता दें कि ये सभी कीमत सरकार के लिए है. सरकार इन कीमतों पर कंपनियों से खरीद रही है. 

उन्होंने कहा कि देश में कोविशील्ड और कोवैक्सीन को आपात उपयोग की मंजूरी दी गई है. दोनों वैक्सीनों की सुरक्षा और प्रतिरक्षाजनक सिद्ध हुई हैं. राजेश भूषण ने कहा कि देश में कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ टीकाकरण अभियान की शुरुआत 16 जनवरी से होने जा रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान बताया है.

कोरोना को लेकर जताई चिंता

राजेश भूषण ने कहा कि दुनिया में कोरोना के लेकर अभी भी चिंताजनक स्थिति है. एक दिन में 4 लाख नए मामले सामने आए. ब्रिटेन में 68,000 नए केस, ब्रजील में 87,000 और रूस में 29,000 नए सामने आए हैं. भारत में 12,584 नए मामले रिपोर्ट हुए हैं. उन्होंने कहा कि देश में फिलहाल कोरोना के कुल केस का 43.96 फीसदी अस्पतालों या अन्य हेल्थकेयर फेसिलिटीज में है, जबकि 56.04 फीसदी होम आइसोलेशन में है. केवल 2 राज्यों में अभी 50,000 से ज्यादा एक्टिव मामले हैं. केरल में 64,547 जबकि महाराष्ट्र में 53,463 एक्टिव केस हैं. 

राजेश भूषण ने कहा कि भारत में कोरोना के कुल केस 1.04 करोड़ हैं. इनमें से एक्टिव केस 2.16 लाख हैं. 1.51 लाख लोगों की मौत हुई है. प्रति लाख की आबादी में 7,593 नए मामले रिपोर्ट हुए हैं. प्रति 10 लाख की आबादी में 109 लोगों की मौत हुई है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें