scorecardresearch
 

राजस्थान: दूसरे राज्यों को ऑक्सीजन सप्लाई पर गहलोत सरकार ने लगाई रोक, कोरोना का हवाला

राजस्थान के भिवाड़ी, अलवर और नीमराणा जैसे जगहों पर ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनियां हैं. ये कंपनियां दूसरे राज्यों में ऑक्सीजन की व्यावसायिक आपूर्ति करती हैं.

प्रतीकात्मक तस्वीर (फोटो-पीटीआई) प्रतीकात्मक तस्वीर (फोटो-पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • राजस्थान ने ऑक्सीजन की सप्लाई पर लगाई रोक
  • राज्य में बढ़ रहा है कोरोना का प्रकोप
  • अबतक 1 लाख से ज्यादा लोग कोरोना की चपेट में आए

कोरोना संक्रमण की बिगड़ती स्थिति को देखते हुए राजस्थान सरकार ने राज्य से दूसरे प्रदेशों में ऑक्सीजन की सप्लाई पर रोक लगा दी है. 

कोरोना से जिन मरीजों की स्थिति गंभीर हो जाती है, उन्हें ऑक्सीजन की जरूरत पड़ती है. राजस्थान में इस वक्त बड़ी संख्या में लोग कोरोना संक्रमण का शिकर हो रहे हैं. इन्हें ऑक्सीजन की जरूरत पड़ रही है. 

राजस्थान के भिवाड़ी, अलवर और नीमराणा जैसे जगहों पर ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनियां हैं. ये कंपनियां दूसरे राज्यों में ऑक्सीजन की व्यावसायिक आपूर्ति करती हैं. 

राज्य सरकार ने सरकारी आदेश निकालकर ऑक्सीजन राज्य के बाहर भेजने से रोक लगा दी है. यहां से उत्तर प्रदेश, गुजरात और हिमाचल प्रदेश जैसे जगहों पर ऑक्सीजन की सप्लाई की जाती है. राज्य सरकार ने ऑक्सीजन सिलेंडर के औद्योगिक इस्तेमाल पर भी पाबंदी लगा दी है और कंपनियों को कहा है कि वे जरूरत पड़ने पर अस्पतालों को ऑक्सीजन की सप्लाई करें. 

राजस्थान में अभी तक कुल 1 लाख 1 हजार 436 लोग कोरोना की चपेट में आ चुके हैं, इनमें से 81436 लोग ठीक हो चुके हैं, लेकिन 1228 लोगों को कोरोना से मौत हो चुकी है. रविवार को राजस्थान में सबसे ज्यादा 1703 कोरोना संक्रमित केस सामने आए. 

अगर देश की बात करें तो  भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना के कुल 94,372 नए मामले सामने आए हैं. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें