scorecardresearch
 

दिल्ली समेत 160 से ज्यादा शहरों में शुरू होगी ओला कैब, 2 सवारियों की इजाजत

ओला ने एक बयान जारी कर कहा है कि उसके प्लेटफॉर्म पर थ्री और फोर व्हीलर्स वाहनों की सेवा उपलब्ध है. ओला एप के जरिए इन कारों की बुकिंग की जा सकती है. ओला ने कहा है कि वह सुरक्षा के उच्च मानकों का पालन करेगा.

ओला अपनी सर्विस एक बार फिर से शुरू करने जा रहा है. ओला अपनी सर्विस एक बार फिर से शुरू करने जा रहा है.

  • करीब दो महीने दिन बाद शुरू होगी ओला कैब
  • लॉकडाउन की घोषणा के साथ ही बंद थी कैब
  • उच्च सुरक्षा मानकों का करना होगा पालन

कोरोना वायरस संक्रमण के कारण बंद हुई ओला कैब की सेवाएं अब शुरू हो गई है. फिलहाल ओला ने देश के 160 से ज्यादा शहरों में अपनी कैब सर्विस शुरू की है. ओला ने कहा है कि सुरक्षित और सुखद यात्रा अनुभव के लिए अब वो पहले से ज्यादा सुरक्षा मानकों का पालन कर रहा है.

सोमवार से देश में लॉकडाउन-4 की शुरूआत हो गई है. इस दौरान कई राज्य सरकारों ने निजी कैब और टैक्सी सेवाओं को चलाने की अनुमति दी है. दिल्ली में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए बसों में 20, कार में 2, ई-रिक्शा, ऑटो रिक्शा में एक और टैक्सी और कैब में दो सवारियों के बैठने की अनुमति है.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

ओला ने एक बयान जारी कर कहा है कि उसके प्लेटफॉर्म पर थ्री और फोर व्हीलर्स वाहनों की सेवा उपलब्ध है. ओला एप के जरिए इन कारों की बुकिंग की जा सकती है. ओला ने कहा है कि वह सुरक्षा के उच्च मानकों का पालन करेगा.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें

ओला के मुताबिक दिल्ली, हरियाणा, चंडीगढ़, पंजाब, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तेलंगाना, केरल, असम और तमिलनाडु (चेन्नई छोड़कर) में अपनी सेवाएं शुरू करने जा रहा है. ओला के मुताबिक भारत में 160 से ज्यादा शहरों में वो अपनी सेवाएं देगा. कैब सर्विस प्रोवाइडर कंपनी ओला का मानना है कि इससे उसके लाखों ड्राइवरों को रोजगार मिलेगा.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

बता दें कि लॉकडाउन की वजह से देश में 25 मार्च से ही परिवहन के सभी साधन बंद पड़े हैं. इनमें ओला कैब भी शामिल हैं. अब लंबे ब्रेक के बाद ओला कैब के पहिए फिर से रफ्तार पकड़ेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें