scorecardresearch
 

इंदौर: कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाकर निकाली कलश यात्रा, BJP जिला अध्यक्ष पर FIR

कभी कोरोना का हॉटस्पॉट रहने के बावजूद इंदौर में नेता और स्थानीय लोग लापरवाही बरत रहे हैं. इससे पहले इंदौर में ताजिया जुलूस निकाला गया. पुलिस ने इस मामले में 10 से अधिक लोगों पर कार्रवाई की.

कलश यात्रा में उमड़ी महिलाओं की भीड़ (फोटो-आजतक) कलश यात्रा में उमड़ी महिलाओं की भीड़ (फोटो-आजतक)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कोरोना काल में कलश यात्रा
  • सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां
  • बीजेपी के चार नेताओं पर FIR

इंदौर के सांवेर विधानसभा क्षेत्र में कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाकर कलश यात्रा निकालने के आरोप में बीजेपी के चार नेताओं पर इंदौर पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है. जिन नेताओं पर पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है उनमें इंदौर के बीजेपी जिलाध्यक्ष राजेश सोनकर शामिल हैं. 

कभी कोरोना का हॉटस्पॉट रहने के बावजूद इंदौर में नेता और स्थानीय लोग लापरवाही बरत रहे हैं. इससे पहले इंदौर में ताजिया जुलूस निकाला गया. पुलिस ने इस मामले में 10 से अधिक लोगों पर कार्रवाई की. इसके बाद कांग्रेस पर भी भीड़ इकट्ठा कर पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की श्रद्धांजलि सभा करने का आरोप लगा. 

अब बीजेपी नेताओं ने कोरोना संक्रमण की चेतावनी को नजरअंदाज कर कलश जुलूस निकाला है. इस कलश यात्रा में सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ा दी गई. तस्वीरों में महिलाएं बड़ी संख्या में कलश लेकर एक साथ चलती दिखाई दे रही हैं. 

इंदौर पुलिस ने इस मामले में बीजेपी के जिला अध्यक्ष राजेश सोनकर, भगवान सिंह परमार, सुभाष चौधरी और विनोद चंदानी पर धारा 188 के तहत FIR दर्ज कर लिया है. वहीं इस मामले पर सांवेर के पूर्व विधायक और जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट ने कहा कि कलश यात्रा धार्मिक आस्था का मामला है और ये गांवों में ही निकाली जा रही है. उन्होंने कहा कि इस कलश यात्रा में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा रहा है. बता दें कि सांवेर विधानसभा में उपचुनाव भी है, इसे लेकर भी यहां आरोप-प्रत्यारोप लगाए जा रहे हैं. 

वहीं कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता अमीन उल खान सूरी ने कहा कि कलश यात्रा और नर्मदा यात्रा के नाम पर ये लोग नियम का पालन नही कर रहे हैं और साड़ियां और कलश बांटे जा रहे हैं, हम इसकी शिकायत करेंगे. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें