scorecardresearch
 

दिल्ली में कोरोना की फुल स्पीड! पिछले 24 घंटे में 1964 नए केस, 8 लोगों की मौत

दिल्ली में कोरोना की रफ्तार कम होने का नाम नहीं ले रही है. स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों में दिल्ली में कोरोना के 1,964 नए केस सामने आए हैं. जबकि 8 लोगों की मौत हो गई है. कुछ दिन पहले कोरोना का पॉजिटिविटी रेट 20% तक पहुंच गया था, उस लिहाज से इसमें थोड़ी नरमी आई है.

X
दिल्ली में कोरोना के 1964 नए मामले दिल्ली में कोरोना के 1964 नए मामले
20:09

कोराना वायरस के मामले दिल्ली में एक बार फिर बढ़ने शुरू हो गए हैं. गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग ने जो आंकड़े जारी किए, उसके हिसाब से पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1,964 नए केस रजिस्टर्ड हुए हैं. इस अवधि में कोरोना से 8 लोगों की मौत हुई है.

हालांकि पिछले 24 घंटे में कोरोना से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 1,939 रही है. जबकि दिल्ली में कोरोना के कुल एक्टिव केस 6,826 हैं. कोरोना का पॉजिटिविटी रेट 9.42% रहा है.

बुधवार को भी कोरोना के 1600 से ज्यादा नए केस दर्ज किए गए थे. स्वास्थ्य विभाग ने बुधवार को जानकारी दी थी कि पिछले 24 घंटे में दिल्ली के भीतर कोरोना के 1652  नए केस दर्ज किए गए. जबकि 8 लोगों की मौत हो गई है. राजधानी में ओमिक्रोन के BA.4 और BA.5 सब वैरिएंट के एक्टिव होने के बाद केस तेजी से बढ़े हैं.

इस बीच देश की आर्थिक राजधानी मुम्बई में भी कोरोना के 1201 नए मामले सामने आए हैं. जबकि पिछले 24 घंटों में कोरोना से 2 लोग की मौत हुई है.

नया वैरिएंट ज्यादा संक्रामक

लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल में हाल में एक स्टडी में BA 2.75 वैरिएंट भी पाया गया था. ये अधिक तेजी से फैलता है. बुधवार को दिल्ली में कोरोना का पॉजिटिविटी रेट 9.92% था. जबकि मंगलवार को दिल्ली में कोरोना का पॉजिटिविटी रेट 19.20% दर्ज किया गया था. 

वायरल बुखार और फ्लू  भी सक्रिय

इस बीच एक सर्वे में सामने आया है कि दिल्ली-एनसीआर कोरोना के बीच वायरल बुखार और फ्लू ने भी दस्तक दे दी है. सर्वे के मुताबिक बीते 30 दिनों में 10 में से 8 घर कोविड या फिर वायरल बुखार या फ्लू की चपेट में आए हैं. लोगों का कहना है कि उन्होंने कोविड या फिर सर्दी/जुकाम जैसे लक्षण महसूस किए हैं.

बूस्टर डोज लेने वाले अधिक सुरक्षित

जबकि 17 अगस्त तक के आंकड़ों के हिसाब से चालू महीने में कोरोना से मरने वालों की कुल संख्या 87 हो गई है. हालांकि दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने 16 अगस्त को बताया था कि जिन लोगों ने वैक्सीन की तीसरी डोज ली है, वो दो डोज लेने वालों की तुलना में ज्यादा सुरक्षित हैं. उन्होंने बताया कि अस्पताल में भर्ती होने वाले 90% मरीजों में वो लोग हैं, जिन्होंने दो डोज ली थी. सिर्फ 10% लोग ही ऐसे हैं जिन्होंने बूस्टर डोज ली थी. इसलिए तीसरी डोज लेने वाले कोरोना से ज्यादा सुरक्षित हैं

हवाईजहाज में मास्क अनिवार्य

इस बीच एविएशन सेक्टर के रेग्युलेटर DGCA ने भी कोरोना को लेकर सख्ती का रुख अख्तियार कर लिया है. नागर विमानन महानिदेशालय (DGCA) ने सभी एयरलाइंस को कोविड प्रोटोकॉल कड़े करने के निर्देश दिए हैं. सभी एयरलाइंस से साफ कह दिया है कि सभी पैसेंजर्स सफर के दौरान अनिवार्य रूप से फेस मास्क पहने रहें. रेग्यूलेटर ने संकेत दिए हैं कि वह इस संबंध में हवाईअड्डों पर औचक निरीक्षण कर सकता है. नियम का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ एयरलाइंस कंपनियां उचित कार्रवाई कर सकती हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें