scorecardresearch
 

दिल्ली में जारी कोरोना की रफ्तार, 24 घंटे में 1366 मामले, अबतक 905 की मौत

दिल्ली में कोरोना संकट पर जारी राजधानी के बीच नए मामलों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. दिल्ली में 24 घंटे में 1366 कोरोना वायरस के नए मामले आए हैं.

दिल्ली में जारी है कोरोना का कहर (पीटीआई) दिल्ली में जारी है कोरोना का कहर (पीटीआई)

  • दिल्ली में कोरोना केस का आंकड़ा 31 हजार के पार
  • अबतक राजधानी में 900 से अधिक की मौत

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के मामले तेज़ी से बढ़ रहे हैं. पिछले 24 घंटे में राजधानी में कोरोना के कुल 1366 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद कुल केस का आंकड़ा 30 हजार को पार कर चुका है. दिल्ली सरकार की ओर से बुधवार सुबह ये आंकड़े जारी किए गए. पिछले कुछ दिनों से दिल्ली में रोज एक हजार से अधिक मामले सामने आ रहे हैं, जो चिंता का विषय हैं.

मंगलवार रात 12 बजे तक के आंकड़ों के अनुसार, अब दिल्ली में कुल कोरोना केस की संख्या 31309 है. बुलेटिन के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 7 लोगों की मौत हुई और मरने वालों का आंकड़ा इसी के साथ 905 पहुंच गया. वहीं, 504 लोगों के ठीक हो जाने से कुल डिस्चार्ज हुए लोगों की संख्या 11861 हो गई है. अब दिल्ली में 18 हजार से अधिक एक्टिव मामले हैं.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

screenshot_2020-06-10-mail---mohit-grover---outlook_061020071838.png

आपको बता दें कि दिल्ली में कोरोना के केस को लेकर लगातार विवाद हो रहा है. बीते दिनों दिल्ली सरकार ने राजधानी में सिर्फ यहां के निवासियों के इलाज का आदेश निकाला था, जिसे उपराज्यपाल ने वापस कर दिया था. इसी को लेकर दिल्ली और केंद्र अब आमने-सामने हैं.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

वहीं, दूसरी ओर तबीयत खराब होने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी अपना कोरोना वायरस का टेस्ट करवाया. उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आई है. दिल्ली की स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर लगातार सवाल खड़े हो रहे हैं, क्योंकि मरीजों के बढ़ने के साथ ही बेड और वेंटिलेटर की संख्या लगातार कम होती जा रही है.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

मंगलवार को हुई बैठक के बाद दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा था कि अगर दिल्ली में ऐसी ही रफ्तार रहती है, तो जुलाई के अंत तक सिर्फ दिल्ली में ही साढ़े पांच लाख कोरोना वायरस के मामले होंगे, तब करीब 80 हज़ार बेड की जरूरत अस्पतालों में होगी. अभी दिल्ली में सिर्फ 8 हजार के करीब ही बेड कोरोना पीड़ितों के लिए रिजर्व हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें