scorecardresearch
 

Corona: दिल्ली में एक दिन में 82 फीसदी बढ़ गए मरीज, एक्सपर्ट्स ने बताया कहां हो रही गलती

राजधानी दिल्ली में कोरोना के मरीज फिर से बढ़ रहे हैं. प्रशासन को आशंका है कि ऐसा किसी नए वैरिएंट की वजह से हो सकता है. इसलिए सभी पॉजेटिव सैंपल की अब जीनोम सीक्वेंसिंग होगी.

X
दिल्ली में कोरोना टेस्ट कराते लोग (फाइल फोटो) दिल्ली में कोरोना टेस्ट कराते लोग (फाइल फोटो)

देश के साथ-साथ दिल्ली में भी कोरोना वायरस के मरीज बढ़ रहे हैं. राजधानी की बात करें तो यहां एक दिन में 82 फीसदी मरीज बढ़ गए हैं जो कि चिंता की बात है. दिल्ली में मंगलवार शाम को जो आंकड़े आए उसके मुताबिक, राजधानी में 1,118 नए मरीज मिले. जो कि सोमवार की तुलना में 6.50 फीसदी ज्यादा है. राजधानी में सोमवार शाम को 614 मरीज मिले थे.

मंगलवार को आए आंकड़े इसलिए डराने वाले हैं क्योंकि यह लगातार पांचवा दिन है जब कोविड के नए केसों का नंबर 600 से ऊपर रहा है. इतना ही नहीं 10 मई के बाद पहली बार दिल्ली में इतने मरीज मिले थे. 10 मई को भी दिल्ली में कोविड के 1,118 केस आए थे.

दिल्ली में कोविड की वजह से अबतक 26,223 लोग जान गंवा चुके हैं. फिलहाल राजधानी में कोविड के 3,177 मरीज (एक्टिव केस) हैं. यह नंबर सोमवार को 2,561 था.

दिल्ली में कैसे बढ़ा कोरोना का ग्राफ

  • मंगलवार (14 जून) - 1118 नए मरीज
  • सोमवार - 614
  • रविवार - 735
  • शनिवार - 795

दिल्ली में क्यों बढ़े कोविड केस?

एक्सपर्ट का मानना है कि लोगों ने कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना कम कर दिया है. इसके साथ-साथ छुट्टियों के इन दिनों में लोग घूमने भी बहुत जा रहे हैं. एक्सपर्ट दिल्ली में कोविड संक्रमण बढ़ने के पीछे इसे बड़ी वजह मानते हैं.

फिलहाल प्रशासन की कोविड संक्रमण पर बारीक नजर है. दिल्ली के उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने बड़ा निर्देश भी दिया है. अब हर कोविड पॉजेटिव सैंपल की जीनोम सीक्वेंसिंग होगी. इससे देखा जाएगा कि दिल्ली में किसी नए वैरिएंट की वजह से तो कोविड केस नहीं बढ़ रहे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें