scorecardresearch
 

CM केजरीवाल की तबीयत खराब, खुद को किया आइसोलेट, होगा कोरोना टेस्ट

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की तबीयत बिगड़ गई है. सीएम केजरीवाल को कल से हल्का बुखार और गले में खराश की शिकायत है. अब उनका कोरोना टेस्ट करवाया जाएगा.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो-PTI) दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो-PTI)

  • कल से सीएम केजरीवाल की तबीयत खराब
  • कल से सभी मीटिंग को किया गया कैंसिल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की तबीयत बिगड़ गई है. सीएम केजरीवाल को हल्का बुखार और गले में खराश की शिकायत है. अब उनका कोरोना टेस्ट करवाया जाएगा. केजरीवाल की तबीयत बिगड़ने के बाद सारी मीटिंग कैंसिल कर दी गईं और सीएम केजरीवाल ने किसी से मुलाकात नहीं की. उन्होंने अपने आपको आइसोलेट कर लिया है.

इस मामले में आम आदमी पार्टी (आप) नेता और राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को बुखार है और उन्हें खराश की दिक्कत है. वह अपने आवास पर आइसोलेट हैं. उनका कोरोना टेस्ट होगा. वह डायबिटिक भी हैं.

गौरतलब है कि केजरीवाल सरकार ने राज्य सरकार के साथ ही दिल्ली के निजी अस्पतालों में भी केवल दिल्ली वालों के ही इलाज का आदेश दिया था. इस फैसले को उपराज्यपाल ने पलट दिया था. केजरीवाल सरकार के फैसले के मुताबिक दिल्ली में स्थित सिर्फ उन्हीं अस्पतालों में दिल्ली से बाहर के लोगों का इलाज होता, जो केंद्र सरकार के अधीन आते हैं.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

सीएम अरविंद केजरीवाल ने खुद इसका ऐलान किया था. दिल्ली सरकार को डॉक्टर महेश वर्मा कमेटी ने ये सुझाव दिया था. इसके अलावा दिल्ली सरकार की मानें तो उन्होंने दिल्ली वालों से उनकी राय भी ली थी, और दिल्ली वालों की राय पर केजरीवाल सरकार ने मुहर लगा दी थी. उपराज्यपाल ने इस फैसले को पलट दिया.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

बता दें कि दिल्ली में कोरोना के कुल मरीजों का आंकड़ा 27 हजार 654 है. पिछले 24 घंटे में 1320 नए मामले सामने आए हैं. अब तक 761 लोगों की मौत हो चुकी है. दिल्ली में मौजूदा समय में 219 कंटेनमेंट जोन हैं. ये आंकड़े डराने वाले हैं. देश की राजधानी में एक जून के बाद हर रोज 1200 से ज्यादा कोरोना केस आ रहे हैं.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

वहीं, देश में कुल मरीजों का आंकड़ा 2 लाख 56 हजार 611 है, जिसमें 7 हजार 135 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 1 लाख 24 हजार 95 लोग ठीक हो चुके हैं. यानी अभी भी 1 लाख 25 हजार 381 एक्टिव केस हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें