scorecardresearch
 

नए साल के जश्न में भूल न जाएं कोरोना की सावधानी, गृह मंत्रालय ने राज्यों को किया अलर्ट

गृह मंत्रालय ने कहा है कि नए साल की पार्टियां की लापरवाही कहीं लोगों के ऊपर भारी न पड़ जाए, इसलिए इस दौरान बेहद चौकसी की जरूरत है. गृह मंत्रालय के अनुसार पिछले 2-3 महीनों में कोरोना को लेकर स्थिति संतोषजनक रही है. लेकिन ब्रिटेन में कोरोना का नया स्ट्रेन और कई देशों में केसों में बढ़ोतरी चिंताजनक है.

न्यू ईयर सेलिब्रेशन को लेकर MHA ने किया अलर्ट (फाइल फोटो) न्यू ईयर सेलिब्रेशन को लेकर MHA ने किया अलर्ट (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • नए साल की लापरवाही पड़ सकती है भारी
  • गृह मंत्रालय ने कोरोना को लेकर किया अलर्ट
  • ब्रिटेन के नए स्ट्रेन को लेकर रहे चौकसी

देश में कोरोना से जंग के मोर्चे पर आ रही राहत की खबर के बीच गृह मंत्रालय ने एक बार सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को अलर्ट किया है. गृह मंत्रालय की ओर से सभी राज्यों के मुख्य सचिवों को लिखे गए पत्र में कहा गया है कि ब्रिटेन में कोरोना वायरस की नई किस्म की पहचान होने और कई देशों में बढ़ रहे मामलों के बीच भारत में बेहद सावधानी की जरूरत है. 

गृह मंत्रालय ने कहा है कि नए साल की पार्टियां की लापरवाही कहीं लोगों के ऊपर भारी न पड़ जाए, इसलिए इस दौरान बेहद चौकसी की जरूरत है. गृह मंत्रालय के अनुसार पिछले 2-3 महीनों में कोरोना को लेकर स्थिति संतोषजनक रही है. लेकिन ब्रिटेन में कोरोना का नया स्ट्रेन और कई देशों में केसों में बढ़ोतरी चिंताजनक है.

राज्य सरकारों को चौकसी की जरूरत बताते हुए गृह मंत्रालय ने कहा है कि नए साल के मौके पर होने वाली पार्टियों में सावधानी की जरूरत है. इसके अलावा मौजूदा ठंड का मौसम भी कोरोना के संक्रमण के लिए मुफीद है, इसलिए इस बाबत राज्य पर्याप्त सावधानी रखें और जरूरत के अनुसार कदम उठाएं. 

देखें- आजतक LIVE

गृह मंत्रालय ने कहा है कि राज्य और केंद्र शासित सरकारें अपने आकलन के आधार पर स्थानीय स्तर पर प्रतिबंध लगा सकती हैं. इनमें नाइट कर्फ्यू शामिल है. ताकि हर हाल में कोरोना का संक्रमण रोका जा सके. हालांकि गृह मंत्रालय ने कहा कि एक राज्य के अंदर और एक राज्य से दूसरे राज्य के बीच लोगों और सामान के आने जाने पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा.  

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें