scorecardresearch
 

कोरोना: संक्रमण के बाद वैक्सीन ना लगवाने वालों को खतरा ज्यादा, अमेरिकी स्टडी में दावा

कोरोना वायरस वैक्सीन (Corona Virus Vaccine) लोगों को इम्यूनिटी बूस्ट (Immunity Boost) करने में मदद कर रही है. एक स्टडी में दावा किया गया है कि कोरोना (Corona Virus) से ठीक होने के बाद जो लोग वैक्सीन नहीं लगवा रहे हैं उन्हें रीइंफेक्शन (Reinfection) का दोगुना खतरा है.

X
वैक्सीन से संक्रमण के खिलाफ और अधिक सुरक्षा मिल रही है. (सांकेतिक तस्वीर) वैक्सीन से संक्रमण के खिलाफ और अधिक सुरक्षा मिल रही है. (सांकेतिक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • स्वास्थ्य अधिकारियों ने लोगों से की वैक्सीन लेने की अपील
  • वैक्सीन से इम्यूनिटी बढ़ाने में मिल रही मदद
  • अमेरिका की एक स्टडी में दावा

कोरोना वायरस वैक्सीन (Corona Virus Vaccine) लोगों को इम्यूनिटी बूस्ट (Immunity Boost) करने में मदद कर रही है. एक स्टडी में दावा किया गया कि कोरोना (Corona Virus) से ठीक होने के बाद जो लोग वैक्सीन नहीं लगवा रहे हैं उन्हें रीइंफेक्शन (Reinfection) का दोगुना खतरा है.

शुक्रवार को सेंटर फॉर डिजिस कंट्रोल एंड प्रिवेंशन नाम की एक रिपोर्ट में वैज्ञानिकों ने लोगों से अपील की है कि वो वैक्सीन की डोज लगवा लें क्योंकि तेजी से फैल रहे डेल्टा वैरिएंट का खतरा बढ़ रहा है. इससे उन लोगों को भी खतरा है जो पहले कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं. रिपोर्ट में कहा गया है कि लैब में इस बात के साक्ष्य मिले हैं कि वैक्सीन से लोगों की नेचुरल इम्यूनिटी बूस्ट हो रही है और वायरस के नए वैरिएंट के खिलाफ सुरक्षा भी मिल रही है.

सीडीसी के डायरेक्टर रोशेल वालेंस्की ने कहा कि अगर आप पहले कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं तो वैक्सीन जरूर लगवा लें. वैक्सीन लगवाना अपनी  और अपने आसपास के लोगों की सुरक्षा का सबसे बेहतर तरीका है और विशेष तौर पर यह इसलिए भी जरूरी है क्योंकि देश में कोरोना वायरस का डेल्टा वैरिएंट तेजी से फैल रहा है.

नए वैरिएंट से होने वाले रीइंफेक्शन को लेकर जानकारियां अभी कम हैं. लेकिन यूएस हेल्थ अधिकारियों ने ब्रिटेन के आंकड़ों से इस बात के आसार जताए हैं कि डेल्टा वैरिएंट से दोबारा संक्रमित होने का खतरा ज्यादा है. अगर आप बीते छह महीने में कोरोना से संक्रमित हुए हैं तो अल्फा वैरिएंट के मुकाबले इस वैरिएंट से दोबारा संक्रमित होने का खतरा ज्यादा है.

संक्रमण वाली बीमारियों के विशेषज्ञ डॉ. एंथनी फाउची ने कहा कि, इसमें कोई शक नहीं है कि कोरोना संक्रमित हो चुके लोगों को वैक्सीन से इम्यूनिटी मजबूत करने में मदद मिल रही है. वैक्सीन लगवाने से ना सिर्फ आप वायरस बल्कि इसके वैरिएंट के खिलाफ भी सुरक्षा पा लेते हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें