scorecardresearch
 

मार्च से आम लोगों के लिए ओपन होगा Co-WIN ऐप, 16 जनवरी को लॉन्च करेंगे पीएम मोदी

Co-WIN के जरिए लाभार्थियों को ट्रैक किया जाएगा. इस प्लेटफॉर्म पर सभी जानकारी रियल टाइम में अपडेट की जाएंगी. वैक्सीनेशन साइट पर सिर्फ उन्हीं लोगों को टीका लगाया जाएगा जो प्राथमिकता के आधार पर पहले ही रजिस्टर्ड होंगे.

 CoWIN ऐप (फाइल फोटो) CoWIN ऐप (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 16 जनवरी से टीकाकरण अभियान
  • Co-WIN ऐप लॉन्च करेंगे पीएम मोदी
  • मार्च से आम लोगों के लिए ओपन होगा ऐप

कोरोना वैक्सीनेशन के महाभियान की शुरुआत शनिवार (16 जनवरी) से होने वाली है. वैक्सीनेशन की प्रक्रिया को कारगर बनाने और सभी तक वैक्सीन को पहुंचाने के लिए सरकार ने एक प्लेटफॉर्म की भी शुरुआत की है, जिसका नाम Co-WIN ऐप है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 16 जनवरी Co-WIN ऐप भी लॉन्च किया जाएगा. सूत्रों के मुताबिक, आम नागरिकों के लिए ये ऐप मार्च से शुरू होगा और मार्च के आखिर से ही लोग इस ऐप पर अपना रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे. 

बता दें कि Co-WIN से कोरोना टीकाकरण की रियल टाइम निगरानी, वैक्सीन के स्टॉक्स से जुड़ीं सूचनाएं, उन्हें स्टोर करने के तापमान और जिन लोगों को वैक्सीन लगनी है, उन्हें ट्रैक करने जैसे काम होंगे. अब तक 79 लाख से ज्यादा लाभार्थियों ने Co-WIN पर रजिस्ट्रेशन कराया है.

देखें: आजतक LIVE TV

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक Co-WIN के जरिए लाभार्थियों को ट्रैक किया जाएगा. इस प्लेटफॉर्म पर सभी जानकारी रियल टाइम में अपडेट की जाएंगी. वैक्सीनेशन साइट पर सिर्फ उन्हीं लोगों को टीका लगाया जाएगा जो प्राथमिकता के आधार पर पहले ही रजिस्टर्ड होंगे.

देने होंगे ये डॉक्यूमेंट

Co-WIN ऐप पर सेल्फ रजिस्ट्रेशन के लिए आईडी कार्ड होना जरूरी है. इसके अलावा आधार ऑथेंटिकेशन भी करवा सकते हैं. यह ऑथेंटिकेशन बायोमेट्रिक, OTP या फिर डेमोग्राफिक तरीके से किया जा सकता है. ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के बाद, बेनिफिशियरी को रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक SMS आएगा, जिसमें वैक्सीनेशन की तारीख, समय और जगह की जानकारी दी जाएगी. 

16 जनवरी से टीकाकरण अभियान

वहीं, देश में 16 जनवरी से कोरोना वैक्सीनेशन का महाभियान शुरू होने जा रहा है. शुरू में 3 करोड़ कोरोना वॉरियर्स को वैक्सीन लगाई जाएगी. जिसके बाद फ्रंटलाइन वर्कर्स, 50 साल से अधिक उम्र वाले लोग और गंभीर बीमारी वाले लोगों को डोज दी जाएगी. देश में दो वैक्सीन को मंजूरी मिली है, कोविशील्ड और कोवैक्सीन, जिसकी सप्लाई जारी है और अब देश के हर राज्य में वैक्सीन को पहुंचाया जा रहा है.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें