scorecardresearch
 

कोरोना से हाहाकार: 24 घंटे में 1.68 लाख केस, दिल्ली-यूपी में हालात खराब, महाराष्ट्र पर लॉकडाउन की तलवार

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, बीते 24 घंटे में देश में कुल 1,68,912 नए केस दर्ज किए गए. जबकि 904 लोगों की मौत हुई है. 

कोरोना संकट के बीच भी बाज़ारों में भारी भीड़ (फोटो: PTI) कोरोना संकट के बीच भी बाज़ारों में भारी भीड़ (फोटो: PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • देश में फिर टूटा नए मामलों का रिकॉर्ड
  • महाराष्ट्र समेत पांच राज्यों में हालात खराब

भारत में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या हर दिन के साथ बढ़ती जा रही है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, बीते 24 घंटे में देश में कुल 1,68,912 नए केस दर्ज किए गए. जबकि 904 लोगों की मौत हुई है. जो अबतक का सबसे बड़ा रिकॉर्ड है, अगर यही रफ्तार रही तो देश जल्द ही हर रोज़ दो लाख तक मामले दर्ज करने लगेगा. 

फरवरी में जहां भारत में कोरोना के मामले हर रोज़ 10 हज़ार तक आ रहे थे, मार्च में वो आंकड़ा एक लाख प्रति दिन तक पहुंचा. लेकिन अब अप्रैल में तो हर रोज़ 1.50 लाख से अधिक केस ही दर्ज किए जा रहे हैं. ये लगातार तीसरा दिन है, जब 24 घंटे में डेढ़ लाख से अधिक मामले आए हैं. 

किन राज्यों में हालात बेकाबू हो रहे हैं?
देश में इस वक्त सबसे बुरी हालत महाराष्ट्र की है, जहां बीते दिन 60 हज़ार से अधिक केस दर्ज किए गए. महाराष्ट्र में तो हर दिन 50 हज़ार से अधिक मामले सामने आ रहे हैं. लेकिन अगर अन्य राज्यों की ओर नज़र दौड़ाएं तो इस वक्त हर प्रदेश की हालत खस्ता नज़र आ रही है.

दिल्ली, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, गुजरात, कर्नाटक जैसे राज्य हर दिन अपना पिछला रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं. चिंता की बात ये है कि छत्तीसगढ़ जैसा छोटा राज्य भी हर दिन दस हजार से अधिक मामले रिपोर्ट कर रहा है. 

•    महाराष्ट्र – 63294
•    उत्तर प्रदेश – 15276
•    दिल्ली – 10774
•    छत्तीसगढ़ – 10521
•    कर्नाटक – 10250

दिल्ली में पाबंदियां बढ़ीं, महाराष्ट्र में लॉकडाउन की तलवार
कोरोना की बढ़ती रफ्तार के बीच बीते दिन दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ताज़ा प्रतिबंधों का ऐलान किया. एक बार फिर दिल्ली के होटलों, बार, पब, थियेटर, ट्रांसपोर्ट और अन्य क्षेत्रों को आधी क्षमता से काम करने का निर्देश दिया गया है, दफ्तरों में अधिक से अधिक वर्क फ्रॉम होम को बढ़ावा देने की बात कही गई है.

दिल्ली से इतर महाराष्ट्र में तो हालत बेहद खराब है. बीते दिन महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रदेश की कोविड टास्क फोर्स के साथ मीटिंग की. टास्क फोर्स ने राज्य में कम से कम 14 दिन और 21 दिन तक का संपूर्ण लॉकडाउन लगाने की मांग की है. हालांकि, अभी इसपर अंतिम निर्णय नहीं हुआ है. लेकिन राज्य के जिस तरह के हालात हैं, उस हिसाब से महाराष्ट्र ऐसे ही लॉकडाउन की ओर बढ़ते दिख  रहा है. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें