scorecardresearch
 

कोरोना वॉरियर्स ने वैक्सीन लेकर सुनाया अपना अनुभव, PM मोदी बोले- देश जीतेगा जंग

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को वाराणसी के कोरोना वॉरियर्स को संबोधित किया. पीएम मोदी ने कहा कि काशी में वो अपनी ओर से लगातार काम करने का प्रयास कर रहे हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो: PIB) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो: PIB)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • वाराणसी के कोरोना वॉरियर्स से पीएम मोदी का संवाद
  • पीएम मोदी बोले- देश ने दो स्वदेशी वैक्सीन बनाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को वाराणसी के कोरोना वॉरियर्स को संबोधित किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि साल 2021 की शुरुआत काफी शुभ हुई और भारत में अब दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीनेशन का कार्यक्रम चल रहा है. देश ने खुद अपनी दो स्वदेशी वैक्सीन बनाई है और दुनिया के कई देशों को भी भारत वैक्सीन दे रहा है.

पीएम मोदी ने कहा कि वाराणसी में पहले चरण में करीब बीस हजार लोगों को वैक्सीन लग रही है, जिसके लिए 15 केंद्र बनाए गए हैं. पीएम मोदी ने कहा कि शुरुआत में राजनीतिक तौर पर उनपर दबाव बनाया जाता था कि अबतक वैक्सीन क्यों नहीं आई है, ऐसे में हमने सिर्फ वैज्ञानिकों की बात सुनने का फैसला किया. सरकार ने रणनीति के तहत पहले स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन का टीका लगाने का फैसला किया.

पीएम मोदी ने कोरोना वॉरियर्स से किया संवाद
पीएम मोदी ने वाराणसी महिला अस्पताल की पुष्पा देवी से संवाद किया. महिला डॉक्टर ने बताया कि उन्हें 16 जनवरी को ही वैक्सीन लग गई है, वो खुद को स्वस्थ महसूस कर रही हैं. पीएम मोदी ने संवाद के दौरान कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में कोरोना वॉरियर्स की ही सबसे बड़ी भूमिका है. 

पीएम मोदी ने कहा कि सभी डॉक्टर्स को अपने इंस्टीट्यूट-अस्पताल में अधिक संख्या में कोरोना वॉरियर्स को टीका लगवाना चाहिए और उन्हें प्रेरित करना चाहिए. श्रृंखला चौहान ने अपना अनुभव पीएम मोदी से साझा किया. श्रृंखला ने जानकारी दी कि पहली डोज उन्होंने खुद लगवाई, फिर 87 लोगों को वैक्सीन का टीका भी लगाया.

आपको बता दें कि देश में 16 जनवरी से देशव्यापी वैक्सीनेशन का काम आरंभ हुआ था. करीब तीन हजार से अधिक सेंटर्स पर टीकाकरण का काम किया जा रहा है. शुरुआती चरण में करीब तीन करोड़ हेल्थवर्कर्स को टीका लगाया जा रहा है, जिसके बाद कोरोना वॉरियर्स का नंबर आना है.

देखें: आजतक LIVE TV

कोरोना वैक्सीनेशन के दूसरे चरण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राज्यों के मुख्यमंत्रियों को कोरोना का टीका लगेगा. दरअसल, इसी चरण में 50 वर्ष से अधिक उम्र वाले लोगों को टीका लगना है, ऐसे में जो भी जनप्रतिनिधि 50 वर्ष से अधिक आयु के हैं उनका नंबर भी इसी दौरान आएगा. 

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में 21 जनवरी की शाम 6 बजे तक करीब दस लाख लोगों को टीका लगा है. हाल ही में को-विन ऐप में कुछ सुविधाएं जोड़ी गई हैं, जिसके बाद अब सेशन में बदलाव किए जा सकेंगे. इस सुविधा के कारण कोरोना वैक्सीनेशन की रफ्तार तेज़ हो सकेगी. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें