scorecardresearch
 

कोरोना: 92 देशों की आबादी से भी ज्यादा रहा वैक्सीनेशन, जानें राज्यवार आंकड़े

भारत ने एक दिन में वैक्सीन के जितने डोज़ लगाए उतनी आबादी तो दुनिया के 92 देशों की भी नहीं है. सिंगापुर, डेनमार्क, फिनलैंड, नॉर्वे, आयरलैंड,न्यूज़ीलैंड जैसे देशों की आबादी से ज़्यादा टीके तो भारत ने एक ही दिन में लगा दिए.

देश में कोरोना वैक्सीनेशन अभियान की रफ्तार और तेज हो गई है. (फोटो-पीटीआई) देश में कोरोना वैक्सीनेशन अभियान की रफ्तार और तेज हो गई है. (फोटो-पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • देश में वैक्सीनेशन की स्पीड बढ़ी
  • मध्य प्रदेश में भी बना रिकॉर्ड

देश में कोरोना वायरस से जंग और तेज हो गई है. कोविड-19 की रोकथाम के लिए सोमवार से वैक्सीनेशन अभियान की रफ्तार और तेज कर दी गई. देश में 21 जून से 18 साल से ज्यादा की उम्र के लोगों का फ्री वैक्सीनेशन और तेज कर दिया गया इसके साथ ही पहले ही दिन देश ने टीका लगाने का रिकॉर्ड बना लिया. सरकार के आंकड़ों के मुताबिक पहले दिन कोरोना वैक्सीन की 84 लाख से ज्यादा डोज लगाई गई. टीकाकरण का रिकॉर्ड बनने पर प्रधानमंत्री मोदी ने खुशी जताते हुए ट्विटर के जरिए वेलडन इंडिया भी कहा.

भारत ने एक दिन में वैक्सीन के जितने डोज़ लगाए उतनी आबादी तो दुनिया के 92 देशों की भी नहीं है. सिंगापुर, डेनमार्क, फिनलैंड, नॉर्वे, आयरलैंड,न्यूज़ीलैंड जैसे देशों की आबादी से ज़्यादा टीके तो भारत ने एक ही दिन में लगा दिए.

टीके की डोज की संख्या और कुछ देशों की आबादी की बात करें तो सिंगापुर की आबादी 59 लाख है, डेनमार्क की 58 लाख, फिनलैंड की 55 लाख, नार्वे की 54 लाख, आयरलैंड की 49 लाख और न्यूजीलैंड की 48 लाख. इस लिहाज से भारत ने एक दिन में जितनी वैक्सीन लगाई वो संख्या कई देशों की आबादी से भी ज्यादा है.

भारत ने वैक्सीनेशन पर जो स्पीड अब बनाई है, उसे बरकरार रखने की ज़रूरत है और अगर ऐसा रहा तो दिसंबर तक वैक्सीनेशन का लक्ष्य हासिल किया जा सकता है.  भारत को दिसंबर तक पूरी तरह से वैक्सीनेट होने के लिए करीब 80 से 90 लाख डोज़ प्रति दिन लगाने की ज़रूरत थी. अच्छी बात ये है कि हमने वही स्पीड पकड़ी है.

PIB की तरफ से जारी प्रेस रिलीज.

मध्य प्रदेश ने बनाया रिकॉर्ड

विश्व योग दिवस पर शुरू हुए महा वैक्सिनेशन अभियान में मध्यप्रदेश ने रिकॉर्ड बना दिया. एक ही दिन में 10 घण्टे के दौरान मध्यप्रदेश में इतनी बड़ी आबादी को वैक्सीन लग गयी जितनी आबादी भूटान, बहरीन और मॉरीशस जैसे देशों की नहीं है.  रात 11 बजे तक मिले आंकड़ों के मुताबिक मध्यप्रदेश में सुबह 10 बजे से लेकर शाम 8 बजे तक 16 लाख 41 हज़ार लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई जो देश मे सबसे ज्यादा है.
 

आपको बता दें कि भूटान की आबादी करीब 7 लाख 70 हज़ार है जबकि बहरीन की आबादी करीब 15 लाख है. वहीं मॉरीशस की आबादी करीब 12 लाख 80 हज़ार है. लेकिन मध्यप्रदेश में 16 लाख से ज्यादा लोगो को 10 घंटे के भीतर वैक्सीन लगाई गई जो इन देशों की आबादी से भी ज्यादा है. रात 11 बजे तक डेटा अपडेट होता रहा और तब तक कुल 16 लाख 70 हज़ार 340 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाए जाने का आंकड़ा सरकार ने जारी किया. 

इसपर भी क्लिक करें- वैक्सीनेशन में बना रिकॉर्ड, एक दिन में 84 लाख टीका लगने पर PM मोदी बोले- वेलडन इंडिया
 

इंदौर-भोपाल रहे सबसे आगे
इस अभियान के तहत मध्यप्रदेश के दो सबसे बड़े हॉटस्पॉट इंदौर और भोपाल वैक्सिनेशन में भी सबसे आगे रहे. इंदौर में 2 लाख लोगों को वैक्सीन का टारगेट तय किया गया था लेकिन 10 बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक इंदौर में 2 लाख 22 हज़ार से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी थी जबकि भोपाल में 11 बजे तक 1 लाख 50 हज़ार वैक्सीन के टारगेट को पूरा कर लिया.बता दें कि मध्यप्रदेश के पास 19 लाख वैक्सीन उपलब्ध थी जिसके चलते राज्य सरकार ने 10 लाख वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा था लेकिन शाम को वैक्सिनेशन का समय खत्म होते होते लक्ष्य से 6 लाख ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाई गई.

यूपी में भी जबरदस्त वैक्सीनेशन

यूपी में भी पहले दिन वैक्सीनेशन तय लक्ष्य को पार कर गया. सोमवार 21 जून को प्रदेश में 6,90,000 वैक्सीन डोज दी गईं. सीएम योगी ने ट्वीट कर पीएम मोदी को धन्यवाद दिया सीएम योगी ने लिखा, ''आदरणीय प्रधानमंत्री जी की ऊर्जावान प्रेरणा का ही परिणाम है कि आज लक्ष्य से अधिक टीकाकरण करने में हम सफल रहे.आज से @UPGovt ने प्रतिदिन 06 लाख वैक्सीन डोज का लक्ष्य रखा था जिसके सापेक्ष आज 6,90,000 डोज दी गईं. यह मानवता के समर में जनसहभागिता का उत्तम उदाहरण है.सभी का धन्यवाद!''

(MP से रवीश पाल सिंह के इनपुट के साथ)

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें