scorecardresearch
 

केरल में कोरोना की खतरनाक स्पीड, नाइट कर्फ्यू के साथ रविवार को लॉकडाउन रहेगा जारी

केरल में रोज के 30 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं. पिछले 24 घंटे की बात करें तो राज्य में कोरोना के कुल 29,682 केस दर्ज किए गए. वहीं 142 लोगों ने इस महामारी के आगे अपना दम तोड़ दिया.

केरल में कोरोना की खतरनाक स्पीड ( सांकेतिक फोटो) केरल में कोरोना की खतरनाक स्पीड ( सांकेतिक फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • केरल में कोरोना की खतरनाक स्पीड
  • नाइट कर्फ्यू के साथ रविवार को लॉकडाउन रहेगा जारी
  • महाराष्ट्र में भी स्थिति चिंताजनक

दक्षिण भारत में कोरोना के मामले कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं. बाकी पूरे देश में स्थिति सुधरती दिख रही है, लेकिन दक्षिण में मामले भी ज्यादा हैं, मौतें भी ज्यादा हैं और संक्रमण दर भी डरा रहा है. दक्षिण भारत में भी केरल की स्थिति सबसे ज्यादा खराब है जो इस समय कोरोना का सबसे बड़ा एपीसेंटर बन चुका है.

केरल में कोरोना की खतरनाक स्पीड

केरल में रोज के 30 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं. पिछले 24 घंटे की बात करें तो राज्य में कोरोना के कुल 29,682 केस दर्ज किए गए. वहीं 142 लोगों ने इस महामारी के आगे अपना दम तोड़ दिया. अब केरल के लिए चिंता की बात सिर्फ ज्यादा केस आना नहीं है, बल्कि दूसरे राज्यों की तुलना में यहां पर मौंत का आंकड़ा भी ज्यादा डरा रहा है. पिछले कई दिनों से राज्य में 150 के करीब मौतें दर्ज की जा रही हैं.

संक्रमण दर भी काफी ज्यादा

राज्य का संक्रमण दर भी चिंता बढ़ाने वाला साबित हो रहा है. जहां पूरे देश में अब पॉजिटिविटी रेट 2 प्रतिशत के करीब पहुंच गया है, तो वहीं केरल में स्थिति एकदम उलट है. यहां पर संक्रमण दर 17.54% दर्ज किया जा रहा है जो ये बताने के लिए काफी है कि राज्य में कोरोना मजबूती से पैर पसार चुका है. वैसे केरल के लिए ये बात जरूर राहत वाली है कि कई लोग कोरोना से ठीक होकर अपने घर भी लौट रहे हैं. पिछले 24 की बात करें तो कुल 25,910 लोगों ने कोरोना का मात दे दी है.

लेकिन बिगड़ती स्थिति को देखते हुए राज्य सरकार ने बड़ा ऐलान किया है. बताया गया है कि रविवार को लॉकडाउन भी जारी रहने वाला है और लोगों को अभी के लिए नाइट कर्फ्यू से भी राहत नहीं दी जाएगी. इसके अलावा कोरोना खतरे को देखते हुए राज्य में 11वीं की प्रत्यक्ष परीक्षा पर भी रोक लगा दी गई है. शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने केरल सरकार को फटकार लगाते हुए ये फैसला सुनाया था.

महाराष्ट्र में भी स्थिति चिंताजनक

वैसे केरल के अलावा महाराष्ट्र में भी कोरोना की स्थिति कुछ खास अच्छी नहीं है. इतना जरूर है कि अब कोरोना केस के मामले में केरल ज्यादा आगे निकल गया है, लेकिन महाराष्ट्र में डेल्डा का कहर जारी है. पिछले 24 घंटे की बात करें तो महाराष्ट्र में कोरोना के 4,130 मामले सामने आए हैं. वहीं ठीक होने वालों की संख्या मात्र 2,506 रही. इसके अलावा महाराष्ट्र में शनिवार को 64 लोगों ने अपनी जान गंवाई है. पिछले कुछ दिनों से महाराष्ट्र की कोरोना स्थिति स्थिर होती दिख रही है. लगातार मामले चार से पांच हजार के बीच में रुके हुए हैं. लेकिन डेल्टा का कहर चिंता बढ़ा रहा है और कोरोना की तीसरी लहर की ओर इशारा करता दिख रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें