scorecardresearch
 

महाराष्ट्र में कोरोना ने पकड़ी रफ्तार, नए मरीज 1800 पार, एक महिला में मिले BA.5 वैरिएंट के लक्षण

महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण की रफ्तार बढ़ गई है. बीते 24 घंटे में कोविड के 1881 नए मरीज मिले हैं. इसके साथ ही एक महिला में BA.5 वैरिएंट के लक्षण पाए गए हैं.

X
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 31 साल की महिला में मिला BA.5 वैरिएंट
  • महाराष्ट्र में कोरोना के 8432 एक्टिव केस हैं

महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण एक बार फिर से पैर पसारने लगा है. सूबे में कोविड-19 के केस तेजी से बढ़ रहे हैं. स्वास्थ्य विभाग से मिले आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में महाराष्ट्र में कोविड-19 के 1881 नए केस मिले हैं. इसके साथ ही एक मरीज BA.5 वैरिएंट का भी मिला है. बताया जा रहा है कि एक महिला में BA.5 का संक्रमण पाया गया है. प्रदेश में अब एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 8432 हो गई है.

प्रदेशभर में  पिछले 24 घंटे में 878 मरीजों ने कोरोना संक्रमण को मात दी. इसके साथ ही अब सूबे में रिकवरी रेट 98.02 फीसदी हो गया है. जबकि राज्य में कोविड से जान गंवाने वालों का औसत 1.87 फीसदी है.

चिंता की बात ये है कि प्रदेश में BA.5 वैरिएंट के मरीजों के मिलने का सिलसिला शुरू हो गया है. प्रदेश में एक महिला में BA.5 वैरिएंट के लक्षण मिले हैं. बीजे मेडिकल कॉलेज के मुताबिक जीनोम सीक्वेंसिंग की नई रिपोर्ट आई है. इसमें पुणे की एक 31 साल की महिला BA.5 वैरिएंट से ग्रसित पाई गई है. 

महाराष्ट्र में 28 मई को BA.4 के चार और BA.5 के तीन मरीज सामने आए थे. इसके बाद 7 जून (मंगलवार) को एक महिला में BA.5 के लक्षण मिले हैं. देश में कोरोना के नए मामलों में तेजी आने के पीछे ओमिक्रॉन (Omicron) के सब-वैरिएंट्स BA.4 और BA.5 को जिम्मेदार माना जा रहा है. 

महाराष्ट्र में जिस रफ्तार से कोविड केस बढ़ रहे हैं उससे स्वास्थ्य विभाग की टेंशन भी बढ़ती जा रही है. लोगों को मास्क लगाने और दो गज की दूरी का पालन करने की सलाह दी जा रही है. 

4 महीने बाद मुंबई में सबसे ज्यादा केस मिले

वहीं आर्थिक राजधानी मुंबई में कोविड संक्रमण का विस्फोट हुआ है. पिछले एक दिन में मुंबई में कोरोना के 1242 नए मरीज मिले हैं. चार महीने बाद मुंबई में एक दिन में कोरोना के इतने मामले सामने आए हैं. वहीं मुंबई में 506 मरीजों ने कोरोना को मात दी. इससे पहले 4 जून को मुंबई में एक दिन में 889 मरीज मिले थे.


कितना खतरनाक है ओमिक्रॉन के BA.4 and BA.5 वैरिएंट?


ओमिक्रॉन के दोनों सब-वैरिएंट्स BA.2 की तरह ही है. ओमिक्रॉन के BA.2 से ही भारत में कोरोना की तीसरी लहर आई थी.  विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के मुताबिक, BA.4 और BA.5 से अभी गंभीर बीमारी तो नहीं हो रही है, लेकिन ये ओमिक्रॉन के बाकी सब-वैरिएंट्स की तुलना में ज्यादा संक्रामक है.  WHO ने पिछले महीने बताया था कि दुनिया के दर्जनभर देशों में BA.4 और BA.5 के मामले सामने आए हैं और इससे कोरोना के मामलों में फिर उछाल आ सकता है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें