scorecardresearch
 

रमजान पर बोले योगी- मनुष्य रहेगा तो आस्था है, 5 से अधिक लोग इकट्ठा न हों, चाहे कोई धर्मस्थल हो

सीएम योगी ने कहा कि इस मसले पर कल परसों में सभी धर्मगुरुओं से चर्चा की जाएगी. हम उनसे अपील करेंगे. मनुष्य के जीवन को प्राथमिकता दी जाएगी. कोरोना के संक्रमण को अगर रोकना है तो सख्ती का पालन करना होगा.

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ
स्टोरी हाइलाइट्स
  • यूपी में कोरोना संक्रमण को लेकर सीएम योगी का बयान
  • धर्मस्थल पर 5 से अधिक लोग इकट्ठा न हों
  • रमजान पर भी सीएम ने दिया बयान

कोरोना की बेकाबू होती रफ्तार के बीच यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने आजतक के खास कार्यक्रम में त्योहारों, धार्मिक समारोहों को लेकर बयान दिया. उन्होंने कहा कि इंसान रहेगा तब ही आस्था व्यक्त कर पाएगा. इंसान से आस्था है, आस्था से इंसान नहीं है. रमजान समेत दूसरे त्योहारों को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि मनुष्य रहेगा तो आस्था रहेगी. चाहे कोई भी धर्मस्थल हो 5 से अधिक लोग इकट्ठा न हों. 

सीएम योगी ने आगे कहा कि इस मसले पर वह धर्मगुरुओं से बात करेंगे. उन्होंने कहा कि कल परसों में सभी धर्मगुरुओं से इसपर चर्चा की जाएगी. हम उनसे अपील करेंगे. मनुष्य के जीवन को प्राथमिकता दी जाएगी. कोरोना के संक्रमण को अगर रोकना है तो सख्ती का पालन करना होगा.
 
यूपी के सीएम ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर पहले से ज्यादा खतरनाक है. हमें पहली लहर का अनुभव है, इसीलिए हमने व्यापक रणनीति बनाई है. सभी कोरोना नियमों का पालन करते हुए त्योहार और पर्व मनाएं. 

वहीं वैक्सीन पर जारी सियासत के बीच सीएम योगी ने कहा कि यूपी में वैक्सीन की कमी नहीं है. देश में दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीनेशन प्रोग्राम चल रहा है. यूपी में 6 हजारों केंद्रों में वैक्सीनेशन चल रहा है. वैक्सीन की बर्बादी रोकने के लिए रणनीति बनाई जा रही है. 

वैक्सीन की कमी के सवाल पर उन्होंने कहा कि प्लानिंग के स्तर पर राज्य सरकारों की शिथिलता के चलते यह समस्या आई होगी, नहीं तो वैक्सीन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं. सीएम योगी ने कहा कि हमारा प्रयास है जितनी बर्बादी कम होगी, उतना ज्यादा लोगों को वैक्सीन दी जा सकेगी.

यूपी में लॉकडाउन के सवाल पर सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश में लॉकडाउन की कोई जरूरत नहीं है. जहां 500 से ज्यादा मामले हैं या जहां 100 से ज्यादा केस प्रतिदिन आ रहे हैं, वहां नाइट कर्फ्यू लगाया जाए. इस दौरान जरूरी चीजों की सप्लाई जारी रहे. 

यूपी के सीएम ने बताया कि हमने बेसिक और माध्यमिक शिक्षा परिषद के स्कूल और कॉलेजों को 20 अप्रैल तक के लिए बंद कर दिया है. क्लब और कोचिंग को बंद करने के लिए भी कहा है. इसके अलावा बंद सभागार में 50 से ज्यादा लोग और खुले में 100 से ज्यादा लोग एकत्रित ना हों. सभी के पास मास्क होना चाहिए.  

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें