scorecardresearch
 

बिहार में कोरोना का कहर, पिछले दो दिन में दो नेताओं की हुई मौत

बिहार में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. कोरोन के चलते पहले बीजेपी के एमएलसी सुनील कुमार सिंह की मौत हुई और अब बुधवार को आरजेडी नेता राजकिशोर यादव का निधन हो गया है. राजकिशोर दानापुर सीट से आरजेडी के प्रत्याशी रहे हैं और उनकी लालू यादव के करीबी नेता के तौर पर गिनती होती थी.

कोरोना से आरजेडी नेता राजकिशोर यादव का निधन कोरोना से आरजेडी नेता राजकिशोर यादव का निधन

  • कोरोना संक्रमण का बिहार में बढ़ता प्रकोप
  • बीजेपी MLC सुनील सिंह की कोरोना से मौत

बिहार में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं और हालात बिगड़ रहे हैं. पिछले दो दिनों में कोरोना के चलते दो राजनेताओं की मौत हो चुकी है. दो दिन पहले बीजेपी के एमएलसी सुनील कुमार सिंह की मौत हुई थी और अब बुधवार को आरजेडी नेता राजकिशोर यादव का निधन हो गया है. राजकिशोर दानापुर सीट से आरजेडी के प्रत्याशी रहे हैं और उनकी लालू यादव के करीबी नेता के तौर पर गिनती होती थी.

आरजेडी नेता राजकिशोर यादव को 17 जुलाई को इलाज के लिए पटना के एम्स हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था. कोरोना संक्रमण के चलते उनकी हालत गंभीर थी और बुधवार को उनकी मौत हो गई. राजकिशोर दानापुर नगर परिषद के 2002-07 तक अध्यक्ष रहे. उसके बाद यह सीट महिलाओं के लिए आरक्षित हो गई थी. तब 2007-12 तक वह उपाध्यक्ष रहे, जबकि रेशम देवी अध्यक्ष रहीं.

ये भी पढ़ें: बिहार में कोरोना-बाढ़ से हाल-बेहाल, मनोज झा ने पीएम मोदी को लिखी चिट्ठी

इसके बाद राजकिशोर यादव ने 2012-17 में संगीता देवी को अध्यक्ष बनवाया और खुद उपाध्यक्ष बनकर नगर परिषद की डोर थामे रहे. बताया जाता है कि 12 जुलाई को उन्होंने गोला रोड 38 नंबर वार्ड में जलजमाव को लेकर भ्रमण किया था. इसी दौरान वे कोरोना से संक्रमित हो गए थे, जिसके बाद तबीयत बिगड़ने पर पटना एम्स में भर्ती कराए गए थे और बुधवार को उनका निधन हो गया.

इससे पहले बिहार के बीजेपी विधान पार्षद सुनील कुमार सिंह का मंगलवार को पटना के एम्स अस्पताल में निधन हो गया. वो कुछ दिनों पहले कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे, जिसके बाद एम्स में उन्हें भर्ती कराया गया था और वहां इलाज चल रहा था. लेकिन मंगलवार शाम अचानक तबीयत बिगड़ जाने के चलते हार्ट अटैक से एमएलसी सुनील कुमार सिंह के निधन हो गया था. बिहार के कोरोना से ये किसी राजनेता की यह पहली मौत थी.

ये भी पढ़ें: बिहार में डीएम को आदेश, कोरोना के इलाज के लिए प्राइवेट अस्पतालों को करें अधिकृत

बता दें कि बिहार विधानसभा चुनाव की सरगर्मियां तेज हैं. ऐसे में सभी राजनीतिक दल के नेताओं की सक्रियता बढ़ गई है. वो अपने-अपने क्षेत्रों में दौरे करने के साथ लोगों के दुखदर्द में शामिल हो रहे हैं. ऐसे में उनको कोरोना संक्रमण का शिकार भी होना पड़ रहा है. बिहार में लगातार नेताओं के संक्रमित होने की बात सामने आ रही है. पिछले दिनों बिहार बीजेपी कार्यालय में कई नेता कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गए थे.

बिहार सरकार के मंत्री विनोद कुमार सिंह, विधान परिषद के कार्यकारी सभापति अवधेश नारायण सिंह, बिहार बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल, जदयू नेता अजय आलोक और रामकृपाल यादव के अलावा कई बड़े नेता कोरोना की जद में आ चुके हैं. इन नेताओं के साथ उनके घरवाले भी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं. बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल तो तीन दिन पहले ही स्वस्थ होकर होम क्वारनटीन हुए हैं जबकि उनके परिजनों का इलाज अभी चल रहा है.

बिहार में कोरोना के मामले बेकाबू होते नजर आ रहे हैं. बिहार में गुरुवार तक 28952 लोग कोरोना पीड़ित हो चुके हैं, जिनमें से 217 की मौत हो गई है. हालांकि ठीक होनेवालों की तादाद 18515 है. इसके बावजूद बिहार में कोरोना के मामले जिस तेजी से आ रहे है वह काफी चिंताजनक है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें