scorecardresearch
 

बढ़ते कोरोना केस को लेकर AIIMS अलर्ट, रूटीन भर्ती पर रोक, गैर जरूरी सर्जरी भी बंद

नए और पहले से भर्ती मरीजों के फॉलोअप के लिए एम्स अस्पताल और उसके सभी केंद्रों में ओपीडी सेवाएं काम करती रहेंगी. इसके अलावा कहा गया है कि सभी स्पेशियलिटी क्लीनिक को फिलहाल बंद कर दिया जाएगा और स्पेशियलिटी क्लीनिक में भर्ती मरीजों के फॉलोअप के लिए अप्वाइंमेंट रजिस्ट्रेशन जारी रहेगी.

X
फाइल फोटो. फाइल फोटो.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • एम्स अस्पताल और उसके सभी केंद्रों में ओपीडी सेवाएं काम करती रहेंगी
  • सभी स्पेशियलिटी क्लीनिक को फिलहाल बंद कर दिया जाएगा

अखिल भारतीय चिकित्सा विज्ञान संस्थान (AIIMS) ने कोरोना के बढ़ते नए केस से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है. AIIMS में रूटीन भर्ती पर रोक लगा दी गई है. साथ ही गैर जरूरी सर्जरी भी बंद कर दी गई है. इस संबंध में एम्स के मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉक्टर डीके शर्मा की ओर से शुक्रवार को एक चिट्ठी जारी की गई. 

कहा गया है कि नए और पहले से भर्ती मरीजों के फॉलोअप के लिए एम्स अस्पताल और उसके सभी केंद्रों में ओपीडी सेवाएं काम करती रहेंगी. इसके अलावा कहा गया है कि सभी स्पेशियलिटी क्लीनिक को फिलहाल बंद कर दिया जाएगा और स्पेशियलिटी क्लीनिक में भर्ती मरीजों के फॉलोअप के लिए अप्वाइंमेंट रजिस्ट्रेशन जारी रहेगी.

इसके अलावा सभी नियमित भर्ती और सभी नियमित प्रक्रियाएं, गैर जरूरी सर्जरी अगले आदेश तक अस्थायी रूप से रोक दी जाएंगी. बता दें कि दिल्ली में 30 हजार से ज्यादा एक्टिव मरीज हैं जिनमें से 24 मरीज वेंटिलेटर पर हैं. दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन ने ये जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि अस्पताल में मरीजों की भर्ती बढ़ रही है. इस लहर के जल्द ही पीक पर पहुंचने की आशंका है. दिल्ली में पिछले 24 घंटों में करीब 17 हजार नए कोरोना मामले दर्ज किए गए हैं. यहां सकारात्मकता दर 17% पर है.

वहीं दिल्ली में ओमिक्रॉन के भी नए केस बढ़ते जा रहे हैं. दिल्ली में फिलहाल ओमिक्रॉन के 465 केस सामने आ चुके हैं. दिल्ली में अब तक कोरोना से कुल 25,127 लोगों की मौत हो चुकी है. कोरोना डेथ रेट 1.69 प्रतिशत है. वहीं होम आइसोलेशन में 14,937 मरीज हैं और सक्रिय मरीजों की संख्या 31, 498 के साथ इसकी दर 2.11 प्रतिशत है.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें