scorecardresearch
 

MP: 106 साल की वृद्धा ने लगवाई कोरोना वैक्सीन, बोलीं- मुझे नहीं हुई कोई परेशानी

मध्यप्रदेश के भोपाल जिले की बैरसिया तहसील में आज 106 साल की बेहद उम्रदराज महिला ने कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगवाई है. 

106 साल की वृद्धा ने लगवाई कोरोना वैक्सीन 106 साल की वृद्धा ने लगवाई कोरोना वैक्सीन
स्टोरी हाइलाइट्स
  • स्वास्थ्य कर्मियों से जानकारी के बाद पहुंचीं स्वास्थ्य केंद्र
  • पहली डोज लेने के बाद आधा घंटे तक रहीं निगरानी में 

मध्य प्रदेश के भोपाल जिले की बैरसिया तहसील के तहत आने वाले बिलखो गांव की कमली बाई शनिवार को वैक्सीन लगवाने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचीं. 106 वर्षीय वृद्ध महिला ने कोरोना वैक्सीन का पहला डोज लिया. इस दौरान उन्होंने कहा कि कोई परेशानी नहीं हुई. उन्हें नियम के तहत आधा घंटे तक निगरानी में रखा गया, जिसके बाद वे घर चली गईं.  

कमली बाई के आधार कार्ड पर उनकी जन्मतिथि 1 जनवरी 1915 लिखी हुई है. इस हिसाब से कमली बाई की उम्र 106 साल हुई. वैक्सीन लगवाने के बाद नियम के तहत आधे घण्टे तक कमली बाई को निगरानी में रखा गया और उसके बाद उन्हें घर जाने दिया गया. टीका लगवाने के बाद कमली बाई ने कहा कि वो काफी समय से वैक्सीन का इंतजार कर रही थीं, लेकिन पता नहीं था टीका कहां जाकर लगवाना है.

कुछ रोज पहले स्वास्थकर्मी गांव में आए और उन्होंने टीकाकरण केंद्र की जानकारी दी तो आज टीका लगवा लिया. कमली बाई ने बताया कि उन्हें कोई तकलीफ नहीं हुई और 2 मिनट में पूरी प्रक्रिया संपन्न हो गई. आपको बता दें कि पिछले हफ्ते ही सागर जिले के खिमलासा गांव की रहने वाली 118 साल की तुलसाबाई ने कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगवाई थी. आधार कार्ड में तुलसाबाई की जन्मतिथि 01 जनवरी 1903 दर्ज है.

बता दें कि मध्यप्रदेश में बीते एक पखवाड़े से कोरोना के मामलों में जबरदस्त बढ़ोतरी देखने को मिली है. इस बीच सरकार की कोशिश है कि ज्यादा से ज्यादा लोग वैक्सीन लगवाएं, ताकि संक्रमण की रफ्तार थोड़ी कम हो. इसी उद्देश्य से जन जागरूकता अभियान भी चलाये जा रहे हैं. प्रदेश में वैक्सीनेशन का टारगेट भी बढ़ाकर 4 लाख डोज प्रतिदिन कर दिया गया है. दूसरी तरह स्वदेशी वैक्सीन पर लोगों का भरोसा भी बढ़ता जा रहा है, जिसके चलते लोग भी अपनी इच्छा से वैक्सीन लगवाने पहुंच रहे हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें