scorecardresearch
 
कोरोना

कोरोना वायरस में छिपे खतरनाक जीन की हुई पहचान, रिसर्च में दावा

कोरोना वायरस में छिपे हुए जीन की पहचान
  • 1/6

कोरोना वायरस के उस छिपे हुए जीन की पहचान कर ली गई है जो उसे जैविक प्रतिरोध और महामारी फैलाने की क्षमता प्रदान करता है. यह खतरनाक जीन अभी तक इसलिए छिपा हुआ था क्योंकि यह कोरोना वायरस के जीन के अंदर मौजूद रहता है. 

कोरोना वायरस में छिपे हुए जीन की पहचान
  • 2/6

दरअसल, अमेरिकन म्यूजियम ऑफ नेचुरल हिस्ट्री के वैज्ञानिकों और शोधकर्ताओं की टीम के मुताबिक अब तक कोरोना वायरस के जीनोम में शामिल 15 जीन की पहचान की जा चुकी है. जिसका असर इस वायरस के खिलाफ वैक्सीन या दवा को विकसित करने पर पड़ सकता है.

कोरोना वायरस में छिपे हुए जीन की पहचान
  • 3/6

हाल ही में की गई इस स्टडी को जर्नल ई-लाइफ में पब्लिश किया गया है. जिसमें वैज्ञानिकों ने जीन के अंदर जीन होने का उल्लेख किया है. माना जा रहा है कि यह संक्रमित के शरीर में वायरस की प्रतिकृति बनाने में अहम भूमिका निभाता है.

कोरोना वायरस में छिपे हुए जीन की पहचान
  • 4/6

अमेरिकन म्यूजियम ऑफ नेचुरल हिस्ट्री में कार्यरत और रिसर्च पेपर के राइटर चेस नेलसन ने कहा कि वायरस के भीतर मौजूद यह जीन कोरोना वायरस का एक हथियार हो सकता है जो संभवत: वायरस को अपनी प्रतिकृति बनाने में मदद करता हो और संक्रमित के प्रतिरोधक क्षमता को निशाना बनाता हो.

कोरोना वायरस में छिपे हुए जीन की पहचान
  • 5/6

उन्होंने कहा कि जीन के भीतर जीन की मौजूदगी और उसके कार्य करने के तरीके से कोरोना वायरस को नियंत्रित करने के नए तरीके के लिए रास्ते खुल सकते हैं. क्योंकि इस खोज से अब वैज्ञानिकों को कोरोना की वैक्सीन बनाने में मदद मिल सकती है. 

कोरोना वायरस में छिपे हुए जीन की पहचान
  • 6/6

शोधकर्ताओं ने जिस जीन की पहचान की है उसे 'ORF3d नाम दिया गया है. जिसमें प्रोटीन को उम्मीद से अधिक एनकोड करने की क्षमता है. हालंकि उन्होंने यह भी बताया कि ORF3d पूर्व में खोज किए गए पैंगोलिन कोरोना वायरस में भी मौजूद थे.