scorecardresearch
 

Sarkari Pension: एक करोड़ लोगों को इस योजना से जोड़ने का लक्ष्य, मिलेगी 60 हजार पेंशन!

केद्र सरकार का मकसद है कि हर तबके को अटल पेंशन योजना (APY) के दायरे में लाना है. सरकार ने वित्त-वर्ष 2021-22 के दौरान अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) से करीब एक करोड़ लोगों को जोड़ने का लक्ष्य रखा है.

सरकारी पेंशन की स्कीम सरकारी पेंशन की स्कीम
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 3 करोड़ लोग जुड़ चुके हैं अटल पेंशन योजना से
  • शुरुआती 6 महीनों में इस योजना से 39.80 लाख लोग जुड़े

केंद्र सरकार का मकसद है कि हर तबके को अटल पेंशन योजना (APY) के दायरे में लाना है. सरकार ने वित्त-वर्ष 2021-22 के दौरान अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) से करीब एक करोड़ लोगों को जोड़ने का लक्ष्य रखा है. 

पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (PFRDA) के आंकड़ों के मुताबिक चालू वित्त वर्ष के शुरुआती 6 महीनों में इस योजना से 39.80 लाख लोग जुड़े हैं. जबकि पिछले वित्त वर्ष में कुल 79.10 लाख लोग इस सरकारी पेंशन स्कीम से जुड़े थे. अटल पेंशन योजना के तहत सब्सक्राइबर्स की संख्या में सालाना आधार पर 32.13 फीसदी का उछाल आया और यह बढ़कर 3.13 करोड़ हो गया.

अगर आपकी उम्र 40 साल से कम है और आप अपने बुढ़ापे को लेकर चिंतित है तो फिर 'अटल पेंशन योजना' आर्थिक तौर पर बुढ़ापे में आपका सहारा बन सकता है. इस सरकारी पेंशन स्कीम से देशभर में अबतक 3 करोड़ लोग जुड़ चुके हैं. 

महिलाओं को रास आ रही स्कीम

अटल पेंशन योजना में सबसे ज्यादा करीब 78% लोगों ने 1,000 रुपये की पेंशन स्कीम चुनी है. स्कीम लेने वालों में 44% महिलाएं हैं. युवाओं में यह स्कीम सबसे ज्यादा लोकप्रिय है, 44 फीसदी मेंबर की आयु 18 से 25 साल के बीच है. 

दरअसल, केंद्र सरकार की अटल पेंशन योजना बुढ़ापे में हर महीने एक तय राशि पेंशन की गारंटी देती है. मोदी सरकार ने अटल पेंशन योजना की मई-2015 में शुरुआत की थी. 1 से 5 हजार रुपये प्रतिमाह पेंशन लेने के लिए सब्सक्राइबर को 42 से लेकर 210 रुपये प्रतिमाह तक भुगतान करना होगा. 

क्या है अटल पेंशन योजना?

इस योजना के तहत रिटायरमेंट के बाद के खर्च के लिए नियमित आय मिलती है. योजना के तहत पेंशन पाने के लिए कम से कम 20 साल तक निवेश करना होगा. अगर आपकी उम्र 18 से 40 साल के बीच है, तो आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं. 60 साल की उम्र तक हर महीने एक निर्धारित रकम निवेश करना होगा. आपकी उम्र 60 साल होते ही हर महीने एक तय राशि पेंशन के तौर पर मिलेगी. 

योजना के मुताबिक न्यूनतम 1,000 रुपये और अधिकतम 5,000 रुपये मासिक पेंशन मिल सकती है. अगर कोई 18 साल का युवा अटल पेंशन योजना से जुड़ता है और उसे 60 साल के बाद 5000 रुपये पेंशन चाहिए तो उसे हर महीने 210 रुपये का निवेश करना होगा. 

इस स्कीम की एक बड़ी खासियत यह है कि अगर निवेशक की बीच में मौत हो जाती है तो सहभागी को फायदा जारी रखने का प्रावधान है. सहयोगी की मृत्‍यु के बाद जमा राशि नॉमिनी को लौटा दी जाएगी. इससे साफ है कि निवेश का पैसा नहीं डूबेगा. वहीं अगर निवेशक 60 साल की उम्र से पहले अपनी राशि की निकासी चाहते हैं तो कुछ परिस्थितियों में यह संभव है. 

कैसे खोल सकते हैं खाता

अटल पेंशन योजना में अकाउंट खोलने के लिए बैंक या फिर पोस्ट ऑफिस में अकाउंट, आधार और एक्टिव मोबाइल नंबर का होना जरूरी है. अपने बैंक के ब्रांच में जाकर या फिर नेट बैंकिंग के जरिए भी खाता खुलवाकर आप इस स्‍कीम से जुड़ सकते हैं. पैसे जमा करने के लिए मासिक तिमाही और छमाही की सुविधा मिलती है. इस योजना के लिए हर महीने बैंक खाते से तय राशि ऑटोमैटिक कट जाती है. 

अटल पेंशन योजना में खाता खुलवा कर बुढ़ापे में पेंशन तो पा ही सकते हैं, इस स्‍कीम में निवेश कर आप 1,50,000 रुपये तक की टैक्स बचत कर सकते हैं. ये छूट आयकर की धारा 80C के अंतर्गत मिलती है. स्‍कीम के बारे में डिटेल जानने के लिए आप http://www.dif.mp.gov.in/FI_Plan_MP/APY/APYSchemeHindi.pdf लिंक पर विजिट कर सकते हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें