scorecardresearch
 
यूटिलिटी

LIC से लेकर कल्याण ज्वैलर्स तक, इस साल भी कई IPO में मिल सकता है मोटा पैसा बनाने का मौका

साल 2020 IPO बाजार के लिए जबरदस्त साबित हुआ
  • 1/12

पिछला साल 2020 भारतीय आईपीओ बाजार के लिए जबरदस्त साबित हुआ है. करीब 15 बड़ी कंपनियों ने ही अपने आईपीओ से करीब 31,000 करोड़ रुपये जुटाए. यही नहीं, कई आईपीओ की जबरदस्त लिस्टिंग हुई और इनसे निवेशकों ने भी अच्छा पैसा बनाया. इस साल भी एलआईसी से लेकर कल्याण ज्वैलर्स तक ऐसे कई ऐसे आईपीओ आ रहे हैं जिनमें निवेशक मोटा पैसा बना सकते हैं. इस साल आने वाले कुछ प्रमुख आईपीओ इस प्रकार हैं: 

IRFC का IPO जनवरी में आ सकता है
  • 2/12

इंडियन रेलवेज फाइनेंस कॉरपोरेशन (IRFC): भारतीय रेल की वित्तीय शाखा इंडियन रेलवे फाइनेंस कॉरपोरेशन (IRFC) का आरंभिक सार्व​जनिक निर्गम (IPO) इसी महीने यानी जनवरी 2021 में आ सकता है. यह आईपीओ लाने वाली सार्वजनिक क्षेत्र की पहली एनबीएफसी होगी. कंपनी इस आईपीओ से करीब 4,600 करोड़ रुपये जुटा सकती है.

RailTel कॉरपोरेशन 700 करोड़ रुपये जुटाना चाहती है
  • 3/12

RailTel: सार्वजनिक क्षेत्र के RailTel कॉरपोरेशन का भी आईपीओ इसी महीने यानी जनवरी में आ सकता है. कंपनी इस आईपीओ से करीब 700 करोड़ रुपये जुटाना चाहती है. यह मिनी रत्न कंपनी रेलवे स्टेशनों, रेल लाइन आदि के पास टेलीकॉम इन्फ्रास्ट्रक्चर उपलब्ध कराती है. 

Studds का IPO फरवरी में आ सकता है
  • 4/12

Studds: हेलमेट की प्रसिद्ध और भारत की सबसे बड़ी कंपनी Studds का आईपीओ भी इस साल फरवरी में आ सकता है. कंपनी की योजना इससे करीब 450 करोड़ रुपये जुटाने की है. 

ज्वैलरी शोरूम की मशहूर चेन कल्याण ज्वैलर्स का आईपीओ आएगा
  • 5/12

कल्याण ज्वैलर्स: ज्वैलरी शोरूम की मशहूर चेन कल्याण ज्वैलर्स का आईपीओ भी इस साल की पहली तिमाही यानी मार्च तक आने की उम्मीद है. कंपनी इस आईपीओ से 1750 करोड़ रुपये जुटाना चाहती है. IPO के जरिये जुटाई रकम को कंपनी अपने कारोबार को विस्तार देने में लगाएगी. 

ESAF बैंक की योजना 976 करोड़ रुपये जुटाने की है
  • 6/12

ESAF स्माल फाइनेंस बैंक: केरल का ESAF स्माल फाइनेंस बैंक पहली तिमाही के अंत तक आईपीओ लाएगा. बैंक की योजना इस आईपीओ से करीब 976 करोड़ रुपये जुटाने की है. इसके तहत बैंक 800 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी करेगा. 

LIC के आईपीओ का निवेशक पिछले साल से ही इंतजार कर रहे हैं
  • 7/12

भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC): भारतीय जीवन बीमा निगम के आईपीओ का निवेशक पिछले साल से ही इंतजार कर रहे हैं. यह आईपीओ 2021 की पहली छमाही में कभी भी आ सकता है. सरकार ने इसके वैल्युएशन के लिए फर्म की नियुक्ति कर दी है. यह भारतीय शेयर बाजार का सबसे बड़ा आईपीओ साबित हो सकता है. 

HDB फाइनेंशियल सर्विसेज का आईपीओ आ सकता है
  • 8/12

HDB फाइनेंशियल सर्विसेज: निजी क्षेत्र के दिग्गज हाउसिंग लोन कंपनी एचडीएफसी की सब्सिडियरी HDB फाइनेंशियल सर्विसेज का आईपीओ इस साल बाजार में आ सकता है. कंपनी इस आईपीओ से करीब 9,000 करोड़ रुपये जुटाना चाहती है. इसमें एचडीएफसी की करीब 95.53 फीसदी हिस्सेदारी है. 
 

जौमेटो की भी शेयर बाजार में उतरने की तैयारी
  • 9/12

Zomato: फूड डिलिवरी स्टार्टअप जौमेटो भी आईपीओ के द्वारा भारतीय शेयर बाजार में उतरने की तैयारी कर रही है. पिछले साल आई खबरों के मुताबिक इसके सीईओ दीपेंदर गोयल ने अपने कर्मचारियों को भेजे एक ई-मेल में कहा था कि कंपनी 2021 की पहली छमाही में बाजार में लिस्ट हो जाएगी. यानी इसका आईपीओ भी जून 2021 से पहले आ सकता है. जोमैटो भारत की सबसे बड़ी ऑनलाइन फूड डिलिवरी कंपनी है और इसकी बाजार हिस्सेदारी करीब 50 फीसदी है. 

इसी साल आईपीओ लाएगी Grofers
  • 10/12

Grofers: इस साल के अंत तक ग्रॉसरी की ऑनलाइन डि​लिवरी कंपनी Grofers भी अपना आईपीओ ला सकती है. इस कंपनी में चीन के सॉफ्टबैंक का अच्छा निवेश है. पहले कंपनी 2022 में आईपीओ लाने की योजना बना रही थी, लेकिन अब खबर है कि यह इसी साल आईपीओ लाएगी. इसका मुकाबला जियोमार्ट, बिगबास्केट जैसी बड़ी कंपनियों से है. 

कंपनी की योजना 1200 करोड़ रुपये जुटाने की है
  • 11/12

Barbeque Nation: रेस्टोरेंट चेन Barbeque Nation का आईपीओ पिछले साल ही आने वाला था, लेकिन कंपनी कोरोना की वजह से अपनी योजना टाल दी. इस साल इसका आईपीओ आ सकता है. कंपनी की योजना इससे करीब 1200 करोड़ रुपये जुटाने की है. 

रियल एस्टेट की दिग्गज कंपनी है लोढ़ा ​डेवलपर्स
  • 12/12

Lodha Developers: लोढ़ा डेवलपर्स पिछले तीन साल से आईपीओ लाने की तैयारी कर रही है, लेकिन इसे अभी तक अमली जामा नहीं पहना पायी है. कंपनी अपने आईपीओ से करीब 5,500 करोड़ रुपये जुटाना चाहती है. मुंबई मुख्यालय वाली लोढ़ा ​डेवलपर्स रियल एस्टेट की एक दिग्गज कंपनी है.