scorecardresearch
 

राणा कपूर पर शिकंजा, 2000 करोड़ की संपत्ति पर अब ED की नजर

11 मार्च तक प्रवर्तन निदेशालय (ED) की हिरासत में भेजे गए राणा कपूर को लेकर अब एक नया खुलासा हुआ है. सूत्रों के मुताबिक, राणा कपूर के कुछ निवेश शक के दायरे में हैं. जांच में पता चला है कि राणा कपूर ने 2000 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति में निवेश किया था.

राणा कपूर पर कसता जा रहा है शिकंजा (फाइल फोटो) राणा कपूर पर कसता जा रहा है शिकंजा (फाइल फोटो)

  • राणा कपूर पर कई शेल कंपनियों के गठन का गंभीर आरोप
  • पत्नी और बेटियां राखी, रोशनी और राधा के नाम पर भी कंपनियां

येस बैंक के संस्थापक राणा कपूर पर शिकंजा कसता जा रहा है. 11 मार्च तक प्रवर्तन निदेशालय (ED) की हिरासत में भेजे गए राणा कपूर को लेकर अब एक नया खुलासा हुआ है. सूत्रों के मुताबिक, राणा कपूर के कुछ निवेश शक के दायरे में हैं. जांच में पता चला है कि राणा कपूर ने 2000 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति में निवेश किया था. ये संपत्ति भारत में हैं. प्रवर्तन निदेशालय को शक है कि संपत्तियों में रिश्वत का पैसा लगाया गया था. यूनाइटेड किंगडम (यूके) में भी संपत्तियों का खुलासा हुआ है.

राणा कपूरी की पत्नी-बेटी से भी पूछताछ

दरअसल, रविवार की सुबह राणा कपूर की पत्नी को भी ईडी ने तलब कर लिया है. इससे पहले कपूर की बेटियों से भी पूछताछ हो चुकी है. हालांकि वित्तमंत्री ने बैंक के ग्राहकों को उनकी कमाई सुरक्षित रहने का भरोसा दिया है, लेकिन लोगों के मन में अभी भी कई तरह के सवाल हैं.

इसे पढ़ें: YES BANK के गुनहगार कौन? राणा कपूर की पत्नी-बेटियां 61 कंपनियों में डायरेक्टर

सूत्रों का कहना है कि राणा कपूर पर आरोप है कि उन्होंने कई शेल कंपनियों का गठन किया है, ताकि कथित रूप से रिश्वत में मिली रकम को खपाया जा सके. ईडी के पास इस बात के सबूत हैं कि डीएचएफल को राणा कपूर की मदद से लोन दिया गया, जबकि डीएचएफल इसे चुकाने में नाकाम था.

शक के घेरे में पूरा परिवार

रिपोर्ट के मुताबिक बिन्दू कपूर और उनकी तीन बेटियां राखी, रोशनी और राधा के नाम पर कई कंपनियां हैं. इन्होंने कथित रूप कई कॉरपोरेट घरानों से रिश्वत (किकबैक) लिया है. ये किकबैक कथित रूप से येस बैंक से लोन दिये जाने के एवज में मिला है.

इसे भी पढ़ें: YES BANK संकट: लोन या ड्राफ्ट का क्‍या होगा? जानें अपने सवालों के जवाब

आरोप है कि ये किकबैक जटिल वित्तीय प्रक्रिया के तहत इन कॉरपोरेट घरानो से राणा कपूर की बेटियों को मिला. माना जा रहा है कि डीएचएफल द्वारा DoIT अर्बन वेंचर नाम की कंपनी को 600 करोड़ रुपये का लोन किकबैक ही था, जो कि येस बैंक से मिले लोन को न चुकाने के एवज में मिला था. ईडी अब इन तमाम पहलुओं की जांच कर रहा है.

ED की पड़ताल में खुलासा

राणा कपूर की पत्नी बिन्दू कपूर फिलहाल 15 कंपनियों में डायरेक्टर हैं. जबकि बेटी रोशनी कपूर 23 कंपनियों की डायरेक्टर हैं, जबकि दूसरी बेटी राधा कपूर खन्ना 20 कंपनियों में डायरेक्टर पोस्ट पर हैं. इसके अलावा राणा कपूर के दामाद आदित्य भी कई कंपनियों के डायरेक्टर हैं. जांच एजेंसियों की मानें तो इनमें से अधिकांश कंपनियों में एक ही निदेशक का समूह है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें